मथुरा: बीजेपी विधायक के काफिले पर बदमाशों ने किया हमला

bjp mla mathura
मथुरा: बीजेपी विधायक के काफिले पर बदमाशों ने किया हमला

मथुरा। पार्टी मीटिंग से लौट रहे बीजेपी विधायक के काफिले पर रविवार रात बदमाशों ने हमला किया। गाड़ी पर अचानक हुए पथराव के अफरा—तफरा मच गई। फिलहाल घटना के बाद से विधायक ने इसकी जानकारी पुलिस को नहीं ​दी। हालाकि उन्होने पार्टी नेताओं को इस हमले की तुरन्त जानकारी दी। विधायक ने अपनी सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग की है। फिलहाल इस पूरे मामले की जांच की जा रही है।

Attck On Bjp Mla In Mathura Last Night :

बताया जा रहा है कि बलदेव विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक पूरन प्रकाश पर रविवार शाम उस समय हमला हो गया जब वह थाना महावन क्षेत्र में पार्टी की एक मीटिंग कर लौट रहे थे। जब वह नगला चीता के करीब पहुंचे तभी उनकी गाड़ी पर अज्ञात बदमाशों ने पत्थर फेंके। अचानक हुए इस हमले से विधायक सन्न रह गए। शीशा टूटकर उनके शरीर पर भी गिरा। इससे उनके हाथ उंगली में थोड़ी चोट आई हैं। विधायक ने बताया कि उन्होंने एक धमाका भी सुना था। अब यह धमाका फायरिंग थी या कुछ और कहा नहीं जा सकता है।

बता दें कि विधायक पूरण प्रकाश पर यह कोई पहला हमला नहीं है। उन पर इससे पहले भी 3 बार हमले हो चुके है, लेकिन हर बार के हमले में एक बात खास होती है कि हमलावर अज्ञात होता है। इसके साथ ही उनपर हमले हमेशा पत्थरों से ही होते है। जिससे ये आशंका जताई जा रही है कि हमले जानबूझकर कराए जाते है।

मथुरा। पार्टी मीटिंग से लौट रहे बीजेपी विधायक के काफिले पर रविवार रात बदमाशों ने हमला किया। गाड़ी पर अचानक हुए पथराव के अफरा—तफरा मच गई। फिलहाल घटना के बाद से विधायक ने इसकी जानकारी पुलिस को नहीं ​दी। हालाकि उन्होने पार्टी नेताओं को इस हमले की तुरन्त जानकारी दी। विधायक ने अपनी सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग की है। फिलहाल इस पूरे मामले की जांच की जा रही है।बताया जा रहा है कि बलदेव विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक पूरन प्रकाश पर रविवार शाम उस समय हमला हो गया जब वह थाना महावन क्षेत्र में पार्टी की एक मीटिंग कर लौट रहे थे। जब वह नगला चीता के करीब पहुंचे तभी उनकी गाड़ी पर अज्ञात बदमाशों ने पत्थर फेंके। अचानक हुए इस हमले से विधायक सन्न रह गए। शीशा टूटकर उनके शरीर पर भी गिरा। इससे उनके हाथ उंगली में थोड़ी चोट आई हैं। विधायक ने बताया कि उन्होंने एक धमाका भी सुना था। अब यह धमाका फायरिंग थी या कुछ और कहा नहीं जा सकता है।बता दें कि विधायक पूरण प्रकाश पर यह कोई पहला हमला नहीं है। उन पर इससे पहले भी 3 बार हमले हो चुके है, लेकिन हर बार के हमले में एक बात खास होती है कि हमलावर अज्ञात होता है। इसके साथ ही उनपर हमले हमेशा पत्थरों से ही होते है। जिससे ये आशंका जताई जा रही है कि हमले जानबूझकर कराए जाते है।