काल बनाता जा रहा ‘ब्लू व्हेल’ गेम, 7वीं के छात्र ने की सुसाइड की कोशिश

इंदौर। सुसाइड गेम ‘ब्लू व्हेल’ के आखिरी टास्क को पूरा करने के लिए 7वीं के छात्र ने सुसाइड करने की कोशिश की, हालांकि उसे साथी छात्रों ने बचा लिया। मामला इंदौर के चमेली देवी पब्लिक स्कूल का है। स्कूल प्रशासन ने छात्र को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। बताया जा रहा है छात्र अपने पिता के मोबाइल में ब्लू व्हेल गेम खेलता था। बता दें कि इससे पहले बीती 29 जुलाई को मुंबई के अंधेरी में गेम के आखिरी टास्क को पूरा करने के लिये 14 साल के लड़के ने सात मंजिला इमारत से कूदकर जान दे दी थी।

राजेंद्र नगर क्षेत्र के चमेली देवी पब्लिक स्कूल में सातवीं कक्षा का 13 वर्षीय छात्र ने तीसरी मंजिल की रैलिंग फांदकर नीचे छलांग लगाने की कोशिश कर ही रहा था कि उसके साथियों ने उसे पकड़कर ऊपर खींच लिया। साथ ही अध्यापकों को इस घटना की जानकारी दी। बाद में पुलिस को इसकी सूचना दी गई।

{ यह भी पढ़ें:- अब बिना बाधा दिव्यांग करेंगे 'महाकाल' के दर्शन, मिलेंगी ये सुविधाएं }

जांच में पता चला कि वो पिता के फोन में ब्लू व्हेल गेम खेलता था। अब उसकी काउंसलिंग की जा रही है। बच्चे ने माना है कि वह कुछ दिनों से वह ब्लू वेल गेम खेल रहा है। प्राचार्य ने बताया कि खुदकुशी से रोके जाने के बाद छात्र बेहद डरा हुआ था। शिक्षकों ने जब प्रेम से बात करते हुए उसे भरोसे में लिया, तो उसने बताया कि वह पिछले कुछ दिनों से मोबाइल पर “ब्लू व्हेल” गेम खेल रहा था।

ब्लू व्हेल पर बैन की मांग-

{ यह भी पढ़ें:- प्लास्टिक बैग में इस नवजात को देख पसीज जाएगा आपका भी कलेजा, जानें पूरी कहानी }

केरल सरकार ने केंद्र से गेम पर रोक लगाने की मांग की है। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने भी कहा है कि हम भी इस गेम पर बैन लगाने की मांग करेंगे।

Loading...