1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. भगवान विष्णु की उपासना के लिए बन रहा है शुभ योग, इस नक्षत्र पर करें हनुमान जी की पूजा

भगवान विष्णु की उपासना के लिए बन रहा है शुभ योग, इस नक्षत्र पर करें हनुमान जी की पूजा

आज शनिवार है। हिंदू पंचाग के अनुसार आज आषाढ़ माह शुक्ल पक्ष की अष्टमी तथा चित्रा नक्षत्र है। शनि को कर्मफलदाता भी कहा जाता है। कहा जाता है कि वे व्यक्ति के कर्मों के हिसाब से उसे फल देते हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Auspicious Yoga Is Being Made For The Worship Of Lord Vishnu Worship Hanuman Ji On This Constellation

17 जुलाई शनिवार: आज शनिवार है। हिंदू पंचाग के अनुसार आज आषाढ़ माह शुक्ल पक्ष की अष्टमी तथा चित्रा नक्षत्र है। शनि को कर्मफलदाता भी कहा जाता है। कहा जाता है कि वे व्यक्ति के कर्मों के हिसाब से उसे फल देते हैं। अगर कुंडली में शनि शुभ स्थिति में बैठे हैं तो ये व्यक्ति को रंक से राजा बना सकते हैं। लेकिन शनि की अशुभ स्थिति राजा को भी भिखारी बना सकती है।

पढ़ें :- पंचांग • शनिवार, 24 जुलाई, 2021

हालांकि ज्योतिष विशेषज्ञों का इस मामले में मानना है कि अगर शनिवार के दिन कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो शनि के अशुभ प्रभावों को भी शुभ प्रभावों में बदला जा सकता है। अगर आप भी शनि के अशुभ प्रभावों को झेल रहे हैं, तो इन मंत्रों का जाप कीजिए।आज के दिन उड़द दान का बहुत महत्व है। रात्रि में माता काली जी की विधिवत पूजा व भैरो स्तोत्र का पाठ करें। आज बजरंगबाण के पाठ करने का अनन्त पुण्य है।

-ॐ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये शन्योरभिस्त्रवन्तु न:.
– ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:
– ॐ ऐं ह्लीं श्रीशनैश्चराय नम:.
-कोणस्थ पिंगलो बभ्रु: कृष्णो रौद्रोन्तको यम:.
– सौरि: शनैश्चरो मंद: पिप्पलादेन संस्तुत:..
– शनि का तंत्रोक्त मंत्र- ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X