1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. Auto Expo 2023 : ऑटो एक्सपो देखने रिकॉर्ड 6.36 लाख लोग पहुंचे, इन गाड़ियों की दिखी झलक

Auto Expo 2023 : ऑटो एक्सपो देखने रिकॉर्ड 6.36 लाख लोग पहुंचे, इन गाड़ियों की दिखी झलक

भारत में रफ्तार की दुनिया का सबसे बड़े मेले को देखने रिकॉर्ड जनता पहुंची। ऑटो एक्सपो (Auto Expo 2023) का आयोजन ग्रेटर नोएडा स्थित इंडिया एक्सपो मार्ट में 11 जनवरी से शुरू हुआ।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Auto Expo 2023 : भारत में रफ्तार की दुनिया का सबसे बड़े मेले को देखने रिकॉर्ड जनता पहुंची। ऑटो एक्सपो (Auto Expo 2023) का आयोजन ग्रेटर नोएडा स्थित इंडिया एक्सपो मार्ट में 11 जनवरी से शुरू हुआ। पब्लिक के लिए 13 जनवरी 2023 से मोटर शो खोला गया। देश के खास मोटर शो के 16 एडिशन में रिकॉर्डतोड़ लोगों भीड़ देखने को मिली। कोविड 19 के कारण 3 साल बाद आयोजित किए गए इस कार्यक्रम में 6.36 लाख से अधिक लोग पहुंचे। कार्यक्रम के दौरान देश और विदेश में तैयार किए गए 82 से अधिक गाड़ियों की लॉन्चिंग और पहली झलक देखने मिली। वैसे तो हर दो साल में इस मोटर शो का आयोजन किया जाता है। 2020 के बाद 2022 में इस प्रदर्शनी का आयोजन किया जाना था मगर महामारी के चलते टाल दिया गया।

पढ़ें :- पाकिस्तान में लगातार बढ़ रहे इन वाहनों के दाम, आर्थिक तंगी के कारण कुछ ऐसा हाल

ऑटो एक्सपो 2023 में लग्जरी कार बनाने वाली दिग्गज कंपनियों और बड़ी संख्या में बिकने वाली टू-व्हीलर गाड़ियों के निर्माताओं की अनुपस्थिति के बावजूद आम जनता का रुझान कम नहीं हुआ पब्लिक मेले में पहुंचती रही। बात करें पिछले मोटर शो कार्यक्रम की तो 2020 के ऑटो एक्सपो प्रदर्शनी में भी करीब 6.08 लाख दर्शक शामिल हुए थे।

Expo 2023 में एमजी मोटर इंडिया ने अपनी वैकल्पिक ईंधन वाली कार का भी प्रदर्शन किया। टोयोटा ने अपने हाइब्रिड मॉडलों का प्रदर्शन किया और अपने पूर्ण-इलेक्ट्रिक bZ4X का भी प्रदर्शन किया। इसके अलावा, कई इलेक्ट्रिक दोपहिया निर्माता थे जिन्होंने ऑटो एक्सपो में अपनी शुरुआत की। अल्ट्रावॉयलेट, लाइगर, मेटर, एलएमएल जैसी अन्य कंपनियों ने भी ध्यान आकर्षित किया।

ऑटो एक्सपो 2023 का आयोजन पांच प्रमुख पहलों पर विशेष ध्यान देने के साथ किया गया था। जो सड़क सुरक्षा, जैव-ईंधन वाहनों को बढ़ावा देने, इलेक्ट्रिक वाहनों को लोकप्रिय बनाने, पुनर्चक्रण पर ध्यान केंद्रित करने और सीएनजी, हाइड्रोजन जैसी गैस गतिशीलता पर है।

पढ़ें :- Economic Survey: यहां मिलेगी 5 करोड़ लोगों को जॉब, 2030 तक हर साल बिकेंगे 1 करोड़ इलेक्ट्रिक वाहन
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...