अयोध्या फैसला: UP के CS और DGP ने CJI रंजन गोगोई से की मुलाकात

CJI and CS, DGP up
अयोध्या फैसला: UP के CS और DGP ने CJI रंजन गोगोई से की मुलाकात

लखनऊ। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मामले में फैसला देने से पहले सुप्रीम कोर्ट उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति परखना चाहता है। देश के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने शुक्रवार को यूपी के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को तलब किया था। सीजेआई ने अपने चेम्बर में मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी और डीजीपी ओपी सिंह के साथ अयोध्या मामले का फैसला आने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम को लेकर बैठक की। बैठक के बाद मुख्य सचिव और डीजीपी सुप्रीम कोर्ट से निकल गए हैं।

Ayodhya Verdict Cs And Dgp Of Up Meet Cji Ranjan Gogoi :

जानकारी ने मुताबिक मुख्य न्यायाधीश ने इन अधिकारियों से भेंट करने के साथ ही अयोध्या के फैसले से पहले की तैयारियों पर चर्चा की। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि के विवाद के मामले में अपना फैसला सुरक्षित कर लिया है। इस फैसले के शीघ्र आने की संभावना के बीच में उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या के साथ ही प्रदेश के हर जिले में सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता करने में लगी है।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं। इससे पहले ही फैसला आना है। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि विवाद पर लगातार 40 दिन सुनवाई के बाद 16 अक्टूबर को फैसला सुरक्षित कर लिया गया है। अब सभी को इसके फैसले का इंतजार है। मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं। उनके रिटायरमेंट से पहले ही फैसला आना है।

लखनऊ। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मामले में फैसला देने से पहले सुप्रीम कोर्ट उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति परखना चाहता है। देश के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने शुक्रवार को यूपी के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को तलब किया था। सीजेआई ने अपने चेम्बर में मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी और डीजीपी ओपी सिंह के साथ अयोध्या मामले का फैसला आने के बाद सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम को लेकर बैठक की। बैठक के बाद मुख्य सचिव और डीजीपी सुप्रीम कोर्ट से निकल गए हैं। जानकारी ने मुताबिक मुख्य न्यायाधीश ने इन अधिकारियों से भेंट करने के साथ ही अयोध्या के फैसले से पहले की तैयारियों पर चर्चा की। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि के विवाद के मामले में अपना फैसला सुरक्षित कर लिया है। इस फैसले के शीघ्र आने की संभावना के बीच में उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या के साथ ही प्रदेश के हर जिले में सुरक्षा के इंतजाम पुख्ता करने में लगी है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं। इससे पहले ही फैसला आना है। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि विवाद पर लगातार 40 दिन सुनवाई के बाद 16 अक्टूबर को फैसला सुरक्षित कर लिया गया है। अब सभी को इसके फैसले का इंतजार है। मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं। उनके रिटायरमेंट से पहले ही फैसला आना है।