HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. साध्वी प्राची का एलोपैथी पर तंज़, कहा-वो जादूगरनी मदर टेरेसा… खुद तड़प कर अस्पताल में मरी

साध्वी प्राची का एलोपैथी पर तंज़, कहा-वो जादूगरनी मदर टेरेसा… खुद तड़प कर अस्पताल में मरी

अक्सर अपने बयानों के चलते विवादों में रहने वाली साध्वी प्राची आयुर्वेद बनाम एलोपैथी के विवाद में स्वामी रामदेव के पक्ष में उतर गई हैं। उन्होंने एक वीडियो के जरिए बयान जारी करते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और मदर टेरेसा पर निशाना साधा है।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखीमपुर खीरी: अक्सर अपने बयानों के चलते विवादों में रहने वाली साध्वी प्राची आयुर्वेद बनाम एलोपैथी के विवाद में स्वामी रामदेव के पक्ष में उतर गई हैं। उन्होंने एक वीडियो के जरिए बयान जारी करते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और मदर टेरेसा पर निशाना साधा है। साध्व प्राची ने कहा कि IMA द्वारा 1928 में एक NGO बनाया गया था। उन्होंने कहा कि एक जादूगरनी थी हिंदुस्तान में, मदर टेरेसा जो छू करके लोगों को सही कर देती थी। जबकि खुद उनकी मौत अस्पताल में हुई थी।

पढ़ें :- Braj Mandal Yatra: ब्रज मंडल यात्रा से पहले नूंह में इंटरनेट-SMS सेवा 24 घंटे के लिए बंद , सरकार अलर्ट

साध्वी प्राची यहीं नहीं रुकीं, उन्होंने आगे कहा कि स्वामी रामदेव जी ने करोड़ों लोगों को स्वस्थ किया है। साध्वी प्राची ने कहा कि, ‘IMA के लोगों कान खोल कर सुन लो, चुल्लू भर पानी में डूब मरो, शर्म करो।’ उन्होंने कहा कि, ‘आयुर्वेद पर कीचड़ उछालने वालों कान खोल करके सुन लो। स्वामी रामदेव जी देश के लिए बहुत बड़ा काम कर रहे हैं।

पढ़ें :- IND W vs UAE W: इंडिया विमेंस ने यूएई को 78 रनों से चटायी धूल; Richa Ghosh ने खेली तूफानी पारी

वह करोड़ों लोगों को ठीक कर रहे हैं।’ साध्वी प्राची ने कहा कि यह धर्मांतरण का खेल हिंदुस्तान में चल रहा है। सरकारों को इस पर सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। शल्य चिकित्सा हमारे आयुर्वेद में पहले से ही है। उन्होंने कहा कि यह ऐसा है जैसे मटके का पानी और फ्रिज का पानी. मटके का पानी पीने से कोई बीमार नहीं होता है। आयुर्वेद वह चीज है। विदेशी कंपनियों के एजेंट ईसाई मिशनरी लोग इसका विरोध कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...