आजम खान पत्नी और बेटे के साथ कोर्ट में कर सकते हैं सरेंडर, संपत्ति कुर्क करने का जारी हुआ था आदेश !

Azam Khan
आजम खान पत्नी और बेटे के साथ कोर्ट में कर सकते हैं सरेंडर, संपत्ति कुर्क करने का जारी हुआ था आदेश!

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से सांसद आजम खान की मुश्किलें कम नहीं हो रहीं हैं। अदालत ने उनकी संपत्ति को कुर्क करने का आदेश दिया है। सूत्रों की माने तो आजम खान पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं। बता दें कि, दो जन्म-प्रमाण पत्र के मामले में सपा सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं।

Azam Khan Can Surrender In Court With Wife And Son Order Issued To Attach Property :

पहले इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अब्दुल्ला आजम की विधायकी रद्द की। अब इसी मामले में सांसद आजम खान, उनकी पत्नी और विधायक तंजीन फातिमा और अब्दुल्ला आजम की संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया था। इस मामले में बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने मुकदमा दर्ज कराया था।

जांच में सामने आया था कि अब्दुल्ला आजम ने दो बर्थ सर्टिफिकेट बनवाए थे और उम्र पूरी ना होने के बावजूद वह गलत बर्थ सर्टिफिकेट के दम पर चुनाव लड़कर विधायक बन गए। इसी के चलते इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उनकी विधायकी खारिज कर दी थी। इसी केस में आजम खान के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी होने के बाद मुनादी भी करवाई गई थी लेकिन फिर को भी व्यक्ति कोर्ट में पेश नहीं हुआ।

बीते सोमवार को तीनों की अंतरिम जमानत याचिका भी खारिज कर दी गई थी। आपको बता दें कि आकाश सक्सेना ने आईपीसी की धारा 420, 467, 468 और 471 के अंतर्गत केस दर्ज करवाया था। वहीं, सूत्रों की माने तो आजम खान, पत्नी और बेटे के साथ कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से सांसद आजम खान की मुश्किलें कम नहीं हो रहीं हैं। अदालत ने उनकी संपत्ति को कुर्क करने का आदेश दिया है। सूत्रों की माने तो आजम खान पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं। बता दें कि, दो जन्म-प्रमाण पत्र के मामले में सपा सांसद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पहले इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अब्दुल्ला आजम की विधायकी रद्द की। अब इसी मामले में सांसद आजम खान, उनकी पत्नी और विधायक तंजीन फातिमा और अब्दुल्ला आजम की संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया था। इस मामले में बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने मुकदमा दर्ज कराया था। जांच में सामने आया था कि अब्दुल्ला आजम ने दो बर्थ सर्टिफिकेट बनवाए थे और उम्र पूरी ना होने के बावजूद वह गलत बर्थ सर्टिफिकेट के दम पर चुनाव लड़कर विधायक बन गए। इसी के चलते इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उनकी विधायकी खारिज कर दी थी। इसी केस में आजम खान के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट जारी होने के बाद मुनादी भी करवाई गई थी लेकिन फिर को भी व्यक्ति कोर्ट में पेश नहीं हुआ। बीते सोमवार को तीनों की अंतरिम जमानत याचिका भी खारिज कर दी गई थी। आपको बता दें कि आकाश सक्सेना ने आईपीसी की धारा 420, 467, 468 और 471 के अंतर्गत केस दर्ज करवाया था। वहीं, सूत्रों की माने तो आजम खान, पत्नी और बेटे के साथ कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं।