1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. आजम खां को पत्नी, बेटे के साथ मिली जमानत, डॉ. तजीन फातिमा व अब्दुल्ला की तत्काल रिहाई का निर्देश

आजम खां को पत्नी, बेटे के साथ मिली जमानत, डॉ. तजीन फातिमा व अब्दुल्ला की तत्काल रिहाई का निर्देश

By शिव मौर्या 
Updated Date

प्रयागराज। समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खां, पत्नी डॉ. तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम खां को इलाहाबाद हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। कोर्ट ने बेटे अब्दुल्ला आजम खां और पत्नी तजीन फातिमा को तत्काल जेल से रिहा करने का निर्देश दिया है। जबकि आजम खां को इस केस के शिकायतकर्ता आकाश सक्सेना का बयान दर्ज होने के बाद रिहा करने का आदेश दिया है। कोर्ट ने विचारण न्यायालय अलीगढ़ से कोर्ट खुलने पर तीन माह के भीतर शिकायतकर्ता का बयान दर्ज करने की अपेक्षा की है।

पढ़ें :- IILM 17th Academy Convocation 2022 : प्रो. मनोज दीक्षित ने मेधावियों को दिया मंत्र 'पढ़ें, कमाएं और लौटाऐं'

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फर्जी जन्म प्रमाणपत्र बनवाने के आरोप में जेल में बंद आजम खां की पत्नी डाक्टर तंजीन फातिमा एवं बेटे मोहम्मद अब्दुल्ला आजम खां की जमानत अर्जी मंजूर कर ली है। यह आदेश न्यायमूर्ति सिद्धार्थ ने डॉ. तंजीन फातिमा, मोहम्मद आजम खां व मोहम्मद अब्दुल्ला आजम खां की जमानत अर्जियों को निस्तारित करते हुए दिया है।

याचियों के खिलाफ भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने रामपुर के गंज थाने में धोखाधड़ी के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करायी है। जिसमें पुलिस चार्जशीट दाखिल हो चुकी है। मुकदमा चल रहा है। आजम खां व तंजीन फातिमा पर आरोप है कि अपने बेटे की दो जन्म तारीख प्रमाणपत्र बनवाया है। एक नगर पालिका परिषद रामपुर व दूसरा नगर निगम लखनऊ से बनवाया है।

दोनों में जन्म तारीख में अंतर है। अब्दुल्ला आजम खां का कहना था कि जन्म प्रमाणपत्र बनवाने में उनकी कोई भूमिका नहीं है। इसलिए जमानत पर रिहा किया जाए। तंजीन फातिमा का कहना था कि महिला होने के कारण जमानत दी जाए। इसलिए दोनों को तत्काल रिहा करने का आदेश दिया गया है और आजम खां को शिकायतकर्ता का बयान दर्ज करने के बाद रिहा करने का आदेश दिया गया है।

 

पढ़ें :- मोदी सरकार महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी की तरह रुपये के अवमूल्यन को हल्के में न ले : मायावती

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...