1. हिन्दी समाचार
  2. आजम खान पर कसा शिकंजा, बिजली चोरी के आरोप में अरेस्ट वारंट जारी

आजम खान पर कसा शिकंजा, बिजली चोरी के आरोप में अरेस्ट वारंट जारी

Azam Khan Gets Screwed Arrest Warrant Issued For Power Theft

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के रामपुर से सांसद आजम खान की मुश्किलें थमने का नाम ही नहीं ले रहीं। एक के बाद एक कई केस दर्ज होने के बाद अब उनके रिजॉर्ट में बिजली चोरी का मामला सामने आया है। आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट पर गुरुवार को बिजली विभाग ने छापा मारा। इस दौरान रिजॉर्ट में बिजली की चोरी पकड़ी गई। रिजॉर्ट का बिजली कनेक्शन काट दिया है और एफआईआर दर्ज करने की तैयारी चल रही है। बिजली विभाग के जेई ने कार्रवाई की पुष्टि की है।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

इतना ही नहीं बताया ये भी जा रहा है कि रिजॉर्ट में छापेमारी के दौरान यहां नलकूप विभाग का ट्यूबवेल भी लगा हुआ पाया गया है। इस ट्यूबवेल को किसानों के खेतों की सिंचाई के लिए लगाया गया था। प्रशासन जांच कर रहा है कि इससे किसानों को पानी मिलता भी था या नहीं। बता दें कि आजम खान के खिलाफ बीते दिनों पुलिस-प्रशासन ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की है। आजम पर चुनाव के दौरान अभद्र भाषा का प्रयोग करने, जमीन हड़पने, अवैध रूप से संपत्ति हथियाने, किताबें चुराने, हरे पेड़ों को कटवाने जैसे करीब 64 मामलों में मुकदमा दर्ज है।

वहीं, आजम खान पर जमीन हड़पने के भी कई मामले दर्ज़ है। जिसकी आगे की जमानत के लिए उन्होंने आवेदन किया था। पिछले हफ्ते उनकी जमानत अर्जी खारिज कर दी गई है। योगी सरकार भी आजम खान को पहले ही भूमाफिया घोषित कर चुकी है। गिरफ्तारी की तलवार लटकती देख आजम खान लोकसभा चुनाव जीतने के बाद से अब तक अपने संसदीय क्षेत्र रामपुर नहीं पहुंचे हैं।

चल रही कार्रवाई के बीच आजम खान का समर्थन करने के लिए बुधवार को यूपी के पूर्व सीएम और एसपी संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को करीब 2 साल बाद मीडिया को संबोधित किया। बीमारी के कारण महीनों बाद मीडिया के सामने आए मुलायम ने कहा कि आजम खान ने बहुत मेहनत के बाद जौहर यूनिवर्सिटी का निर्माण कराया है और उन्हें राजनीतिक षड्यंत्र के तहत निशाना बनाया जा रहा है।

न केवल आजम खान बल्कि उनकी पत्नी तंजीन फातिमा पर भी प्रशासन का शिकंजा कसने लगा है। राज्यसभा सांसद तंजीन फातिमा की दूध डेयरी पर जिलाधिकारी ने जांच बैठाई है। दरअसल, कामधेनु योजना के तहत तंजीन ने डेयरी खोली थी। योजना के तहत उन्होंने कर्ज लिया था। इस बात की जांच की जा रही है कि तंजीन कर्ज लेने के लिए पात्र थीं या नहीं और कर्ज की शर्तों का पालन हुआ या नहीं।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

बता दें, आजम खान की आगे की जमानत की 5 अर्जियां गुरुवार को अदालत ने खारिज कर दीं। किसानों की जमीन कब्जाने के आरोप में अजीमनगर थाने में दर्ज मुकदमों में सेशन कोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई थी। कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था। गुरुवार को कोर्ट ने जमानत की अर्जी खारिज कर दी। इससे पहले आजम की अग्रिम जमानत की 29 अर्जी खारिज हो चुकी हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...