आजम खां का दावा, यूपी में भाजपा को सिर्फ 25 सीट मिलेगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में चुनावी नतीजों को लेकर समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और कैबिनेट मंत्री आजम खां ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को सिर्फ 25 सीट मिलेगी। आजम ने कहा कि मैं इस तरह के एक्जिट पोल पर जरा भी यकीन नहीं करता हूं, पहले भी अधिकांश एक्जिट पोल को जनता ने खारिज किया है। यह अधिकांश एक्जिट पोल मैनेंजड होते हैं।




लंबे-लंबे दावे कर रही भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में सिर्फ 25 सीट मिलेगी। मैं तो दावा के साथ कह रहा हूं कि मेरी बात का यकीन किया जाए। आजम खां ने कहा कि यह तो सभी का पता है कि अगर समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश में सरकार नहीं बना पाती है तो जनता को बहुत भुगतना पड़ेगा।

Azam Khan Is Confident Bjp Will Not Get More Then 25 Seats :

इससे पहले आजम खां ने कहा था कि यदि उप्र विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ता है तो इसका ठीकरा अखिलेश के सिर नहीं फोड़ा जाना चाहिए। इस हार के लिए सपा के सहयोगी दल और खुद प्रदेश की जनता जिम्मेदार होगी। यहां तक कि आजम ने यह भी कह दिया कि अगर उनकी पार्टी हारी तो प्रदेश की जनता भुगतेगी।




साधना गुप्ता के बयान पर भी आजम खां ने आपत्ति जताई थी। उन्होंने कहा था कि साधना को अपने बयानों के लिए दो दिन रुक जाना चाहिए था। चुनाव के आखिरी चरण से एक दिन पहले साधना गुप्ता के इस तरह के बयान पार्टी के लिए सही नहीं हैं। साधना ने यादव कुनबे और पार्टी में चल रही कलह पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए राम गोपाल यादव और अखिलेश यादव पर बयान दिए थे।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में चुनावी नतीजों को लेकर समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और कैबिनेट मंत्री आजम खां ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को सिर्फ 25 सीट मिलेगी। आजम ने कहा कि मैं इस तरह के एक्जिट पोल पर जरा भी यकीन नहीं करता हूं, पहले भी अधिकांश एक्जिट पोल को जनता ने खारिज किया है। यह अधिकांश एक्जिट पोल मैनेंजड होते हैं। लंबे-लंबे दावे कर रही भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में सिर्फ 25 सीट मिलेगी। मैं तो दावा के साथ कह रहा हूं कि मेरी बात का यकीन किया जाए। आजम खां ने कहा कि यह तो सभी का पता है कि अगर समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश में सरकार नहीं बना पाती है तो जनता को बहुत भुगतना पड़ेगा।इससे पहले आजम खां ने कहा था कि यदि उप्र विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ता है तो इसका ठीकरा अखिलेश के सिर नहीं फोड़ा जाना चाहिए। इस हार के लिए सपा के सहयोगी दल और खुद प्रदेश की जनता जिम्मेदार होगी। यहां तक कि आजम ने यह भी कह दिया कि अगर उनकी पार्टी हारी तो प्रदेश की जनता भुगतेगी। साधना गुप्ता के बयान पर भी आजम खां ने आपत्ति जताई थी। उन्होंने कहा था कि साधना को अपने बयानों के लिए दो दिन रुक जाना चाहिए था। चुनाव के आखिरी चरण से एक दिन पहले साधना गुप्ता के इस तरह के बयान पार्टी के लिए सही नहीं हैं। साधना ने यादव कुनबे और पार्टी में चल रही कलह पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए राम गोपाल यादव और अखिलेश यादव पर बयान दिए थे।