आजम खान, पत्नी और बेटे संग रामपुर से दूसरी जेल में शिफ्ट, बताई गयी ये वजह…

Azam Khan
आजम खान, पत्नी और बेटे संग रामपुर से दूसरी जेल में शिफ्ट, बताई गयी ये वजह...

रामपुर। समाजवादी पार्टी के सांसद व पूर्व मंत्री आजम खान, उनकी पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम खान को बुधवार कोर्ट में पेश किया गया था। जहां कोर्ट के आदेश पर उन्हें रामपुर जेल भेज दिया गया था। वहीं उन तीनो को कानून कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए रामपुर से सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया।

Azam Khan Wife And Son Shift From Rampur To Another Jail Reason Given For :

बताया जा रहा है कि उन तीनो को गुरुवार तड़के ही रामपुर जेल से सीतापुर जिले की जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। बताया जा रहा कि रामपुर के एसपी ने अदालत से अपील करते हुए कहा था कि आजम और उनके परिवार को रामपुर जेल में रखने से कानून-व्यवस्था बिगड़ सकती है। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने पिछले साल कई मामलों में आजम खान और उनके परिवार के खिलाफ केस दर्ज कराए थे। इन मुकदमों में ज्यादातर मामले भूमि अधिग्रहण, चोरी और रिश्वतखोरी से जुड़े हैं।

बता दें कि इन सभी मामलो में कोर्ट द्वारा कई बार समन भेजे जाने के बावजूद आजम खान कोर्ट में पेश नहीं हो रहे थे। जिसके बाद अदालत ने उनकी संपत्ति कुर्क करने के आदेश दिए। कोर्ट ने पुलिस को 17 मार्च से पहले आजम खान को पेश करने का आदेश दिया था। इसी के बाद बुधवार को आजम खान, उनकी पत्नी और बेटे को अदालत में पेश किया गया जहां कोर्ट ने 2 मार्च तक के लिए उन्हे जेल भेज दिया। अब 2 मार्च को ही इस मामले की अगली सुनवाई होनी है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को आजम खान के जेल जाने के बाद तंज कसते हुए कहा, ‘हम गंदगी को साफ कर रहे हैं, चाहे वह किसी भी रूप में हो। मुख्यमंत्री योगी ने विधानसभा में वित्तवर्ष 2020-21 के लिए पेश बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा, ‘हमने तो भेदभाव नहीं किया। बिजली यहां आएगी, यहां नहीं आएगी। हमारे मंत्री ने पूछा कि रामपुर में बिजली आएगी या नहीं आएगी। मैंने कहा कि जैसे पहले आती थी, वैसे ही आएगी। हालांकि सीएम ने नाम नही लिया पर आजम की तरफ इशारा करते हुए कहा, बिजली तो अब बहुत चमक रही है वहां (रामपुर) पर, बहुत तेजी से चमक रही है। जब बिजली चमकती है तो फालतू वायरस नहीं पैदा होते।

रामपुर। समाजवादी पार्टी के सांसद व पूर्व मंत्री आजम खान, उनकी पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम खान को बुधवार कोर्ट में पेश किया गया था। जहां कोर्ट के आदेश पर उन्हें रामपुर जेल भेज दिया गया था। वहीं उन तीनो को कानून कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए रामपुर से सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया। बताया जा रहा है कि उन तीनो को गुरुवार तड़के ही रामपुर जेल से सीतापुर जिले की जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। बताया जा रहा कि रामपुर के एसपी ने अदालत से अपील करते हुए कहा था कि आजम और उनके परिवार को रामपुर जेल में रखने से कानून-व्यवस्था बिगड़ सकती है। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने पिछले साल कई मामलों में आजम खान और उनके परिवार के खिलाफ केस दर्ज कराए थे। इन मुकदमों में ज्यादातर मामले भूमि अधिग्रहण, चोरी और रिश्वतखोरी से जुड़े हैं। बता दें कि इन सभी मामलो में कोर्ट द्वारा कई बार समन भेजे जाने के बावजूद आजम खान कोर्ट में पेश नहीं हो रहे थे। जिसके बाद अदालत ने उनकी संपत्ति कुर्क करने के आदेश दिए। कोर्ट ने पुलिस को 17 मार्च से पहले आजम खान को पेश करने का आदेश दिया था। इसी के बाद बुधवार को आजम खान, उनकी पत्नी और बेटे को अदालत में पेश किया गया जहां कोर्ट ने 2 मार्च तक के लिए उन्हे जेल भेज दिया। अब 2 मार्च को ही इस मामले की अगली सुनवाई होनी है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को आजम खान के जेल जाने के बाद तंज कसते हुए कहा, 'हम गंदगी को साफ कर रहे हैं, चाहे वह किसी भी रूप में हो। मुख्यमंत्री योगी ने विधानसभा में वित्तवर्ष 2020-21 के लिए पेश बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा, 'हमने तो भेदभाव नहीं किया। बिजली यहां आएगी, यहां नहीं आएगी। हमारे मंत्री ने पूछा कि रामपुर में बिजली आएगी या नहीं आएगी। मैंने कहा कि जैसे पहले आती थी, वैसे ही आएगी। हालांकि सीएम ने नाम नही लिया पर आजम की तरफ इशारा करते हुए कहा, बिजली तो अब बहुत चमक रही है वहां (रामपुर) पर, बहुत तेजी से चमक रही है। जब बिजली चमकती है तो फालतू वायरस नहीं पैदा होते।