1. हिन्दी समाचार
  2. रामपुर रैली मेें इमोशनल हुए आजम, बोले-‘बता दो कि आखिर मेरी खता क्या है?

रामपुर रैली मेें इमोशनल हुए आजम, बोले-‘बता दो कि आखिर मेरी खता क्या है?

Azam Who Was Emotional In Rampur Rally Said Tell Me What Is My Account

रामपुर। रामपुर की जिस सीट से सपा नेता व वर्तमान सांसद आजम खान 2017 चुनाव में विधायक बने थे, उस सीट पर 21 अक्टूबर को उपचुनाव होना है। इस सीट पर सपा ने आजम खान की पत्नी तंजीन खान को अपना प्रत्याशी बनाकर मैदान में उतारा है। पत्नी के प्रचार के दौरान एसआईटी की जांच झेल रहे आजम खान का दर्द छलकता नजर आया और शायराना अंदाज में वो बोले ‘मुझे इतना बता दो कि आखिर मेरी खता क्या है? सिर्फ इतनी कि तुम्हारे बच्चों के हाथों में कलम दी।’

पढ़ें :- मेहनत के बाद भी नहीं मिलता फल, तो आपके कुंडली में है कालशर्प दोष करे ये उपाए

आपको बता दें कि योगी सरकार में आजम खान के खिलाफ 80 से अधिक मामलों में एफआईआर दर्ज की गयी है। हालांकि इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी। सपा ने इन मुकदमो के बाद योगी सरकार पर साजिश का आरोप लगाया था। अभी भी आजम खान से एसआईटी की पूछताछ चल रही है। आजम खान ने यह भी आरोप लगाया कि उनसे केस से जुड़े मुददो के आलांवा और चीजें पूछी जा रही हैं, उनका कहना है कि उनका लगातार अपमान किया जा रहा है।

रैली के दौरान आजम खान ने कहा कि इस जमीन पर जो करोगे उसका हिसाब देना होगा। ‘मेरी आवाज को कमजोर मत होने दो, मुझे थकने मत दो।’ इसके बाद आजम ने कहा ‘मेरे माथे पर लिखी बदनसीबी को पढ़ने को कोशिश करो। उन्होंने कहा, कि आखिर ‘मेरा गुनाह क्या है? सिर्फ इतना कि 45 साल पहले ये शख्स तुम्हारे आंसू पोंछने आया था। जिसने गुलामी की जंजीरें तोड़नी चाही थीं, उसकी सारी खुशियां छीन ली गईं।’ इस दौरान आजम ने अपने आपको एक खुली किताब बताया। उन्होने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘एक बार खुद पर सवाल करो।’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X