6 महीने में बाबा रामदेव ने 112 फीसदी बढ़ा दी गैस हरण चूर्ण की कीमत

Baba Ramdev Hikes This Products Price By 112 Percent

लखनऊ। बाबा रामदेव के स्वदेशी पतंजलि प्रोडक्ट्स की बाजार में धूम है। बाबा रामदेव के पतंजलि ब्रांड की वैल्यू बाजार में जितनी तेजी से बढ़ रही है उससे कहीं ज्यादा तेजी से उनके प्रोडक्ट की कीमत। हाल ही में बाबा ने अपने गैस हरण चूर्ण की कीमत 40 रूपए से बढ़ाकर 85 रूपए प्रति 100 ग्राम कर दी है। जिससे बाबा के चूर्ण के सहारे अपनी गैस की समस्या का निदान ढूंढ़ने वाले ग्राहकों को तगड़ा झटका लगा है।




अब सवाल उठता है कि अगर विदेशी कंपनियां झूठे विज्ञापनों के माध्यम से ग्राहकों को गुमराह कर लाखों करोड़ का मुनाफा कमातीं हैं। तो बाबा जी क्या कर रहे हैं? क्या वे मुनाफा नहीं कमा रहे? बाबा अपने कारोबार को देश सेवा से जोड़कर दावा करते हैं कि उनकी कंपनी स्वदेशी उत्पाद बनाती है जो सस्ते हैं और शुद्ध हैं। ऐसे में बाबा जी ने अपने गैस हरण चूर्ण में क्या मिला दिया जिस वजह से उसकी कीमत में दोगुने से ज्यादा का उछाल आ गया।

हमारे पास बाबा के इस चूर्ण के दो डिब्बों की तस्वीर मौजूद है। जिसके मुताबिक अगस्त 2015 में बने 100 ग्राम चूर्ण की कीमत 40 रुपए है और वही चूर्ण छह महीने बाद यानी फरवरी 2016 में 85 रुपए में बन कर तैयार होता है। आखिर ऐसा क्यों हुआ होगा यह अपने आप में बड़ा सवाल है? शायद नए चूर्ण का फामूर्ला नया होगा इस वजह से उसमें अतिरिक्त खर्च आया होगा या फिर चूर्ण में पड़ने वाली जड़ी बूटियां मंहगी हो गई होंगी?




देखा जाए तो हमारे देश में इतनी मंहगाई अभी तक केवल दालों की कीमत में ही आई है, हो सकता है बाबा ने सोचा हो कि जब आदमी गैस बनाने वाली दाल मंहगी खा सकता है तो उस गैस के इलाज के लिए मंहगा चूर्ण क्यों नहीं खरीद सकता?

लखनऊ। बाबा रामदेव के स्वदेशी पतंजलि प्रोडक्ट्स की बाजार में धूम है। बाबा रामदेव के पतंजलि ब्रांड की वैल्यू बाजार में जितनी तेजी से बढ़ रही है उससे कहीं ज्यादा तेजी से उनके प्रोडक्ट की कीमत। हाल ही में बाबा ने अपने गैस हरण चूर्ण की कीमत 40 रूपए से बढ़ाकर 85 रूपए प्रति 100 ग्राम कर दी है। जिससे बाबा के चूर्ण के सहारे अपनी गैस की समस्या का निदान ढूंढ़ने वाले ग्राहकों को तगड़ा झटका लगा है। अब…