बच्चे की बीमारी से तंग आकर माँ बेटे संग किया आत्मदाह

सीतापुर: उत्तर प्रदेश के सीतापुर में बड़ा ही दर्दनाक मामला देखने को मिला है। यहाँ एक महिला अपने बच्चे की बीमारी से तंग आकर मासूम समेत खुद को आग के हवाले कर दिया। जिसमें दोनों की मौत हो गई। फिलहाल सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।




मामला कमलापुर थाना क्षेत्र के गवैया गांव का है। यहाँ के निवासी लालता के एक दो साल का बेटा था। बच्चा आनुवांशिक रोग हीमोफीलिया से पीड़ित था। जिसके चलते बच्चे के चोट लग जाने पर खून का थक्का नहीं जमता और काफी रक्त निकल जाता। काफी इलाज के बाद भी बच्चे को भी कोई लाभ नहीं हुआ जिसके कारण दोनों पति पत्नी परेशान रहते थे।

इसी वक्त खेलते वक्त बच्चे को चोट लग गयी जिसके बाद उसके खून बहने लगा, तभी राजकुमारी बाहर आई और अपने बच्चे को गोद में उठाकर अंदर चली गयी। कुछ ही देर बाद अंदर से चीख-पुकार की आवाज़े आने लगी, शोर सुनकर आस-पास के लोग अंदर पहुंचे तो नज़ारा देख हैरान रह गए। राजकुमारी ने अपने दो साल के बेटे को गोद में लेकर आग लगा लिया था, लोगो ने आग बुझाने की कोशिश भी की पर तब-तक दोनों ने दम तोड़ दिया था।




तभी पति लालता वहाँ पहुच गया और चीख-चीख कर सबसे सबसे कहने लगा कि बच्चे की बीमारी से परेशान होकर उसने ऐसा कदम उठा लिया है। पुलिस को राजकुमारी के पिता कालीचरन ने तहरीर दी है, जिसमें आत्महत्या की वजह शोभित की बीमारी को बताया गया है। इस घटना के बाद लालता का रो-रोकर बुरा हाल है।