फिर दिखा खाकी का अमानवीय चेहरा शव को रस्सी में बांधकर घसीटा

सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर जनपद के हरगांव थाने के दरोगा व सिपाही की करतूत ने एक बार फिर खाकी को दागदार किया है। ये पुलिसकर्मी सरायन नदी में बहकर आये पेड़ में फंसे शव को निकालने के बाद शव को रस्सी में बांधकर अमानवीय ढंग से घसिटवा कर सड़क तक ले गये। हालांकि मामला संज्ञान में आने पर पुलिस अधीक्षक सौमित्र यादव ने दरोगा मतीन खां और सिपाही अरविन्द चंदेल को लाइन हाजिर कर दिया है।




मालूम हो कि कुछ दिनों पूर्व एक युवक ने महोली मार्ग पर पड़ने वाली सरायन नदी में छलांग लगाकर मौत को गले लगा लिया था। बताया जाता है कि उसका शव बह रहे पानी के बीच एक पेड़ में फंस गया था। कुछ ग्रामीणों ने इमलिया सुल्तानपुर एवं हरगांव थाना पुलिस को इसकी जानकारी दी थी। चूंकि हरगांव और इमलिया सुल्तानपुर का बार्डर एरिया होने के कारण दोनों थानों की पुलिस असमंजस में थी कि मौके पर कौन पहुंचे। हालांकि बाद में हरगांव थाने पर तैनात दारोगा मतीन खां और सिपाही अरविन्द चंदेल मौके पर पहुंचे और उन्होंने पानी में बह रहे शव को अमानवीय तरीके रस्सी की सहायता से घसीटकर सड़क तक पहुंचवाया।

शव निकालने के दौरान मौजूद कुछ लोगों द्वारा इसे अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया गया जो कि बाद में मीडिया की सुर्खियों में आया। वीडियो वायरल होते ही शर्मसार हो रही खाकी की करतूतों को देखकर डीएम अमृत त्रिपाठी ने तत्काल पुलिस अधीक्षक सौमित्र यादव से वार्ता की इसके बाद एसपी ने हरगांव के दारोगा व सिपाही को निलम्बित कर दिया गया।




Loading...