हूटर बजा रहे बाहुबली विधायक के बेटे को मिली सजा, पुलिस ने काटा चालान

मऊ। मंत्री के बेटे हो या विधायक के, अब यूपी में किसी का रौब नहीं चलेगा। यह बात योगी कई बार सार्वजनिक मंच से कहते दिख ही जाते है और प्रशासन को इस बात की खुली छूट भी दे गयी है कि वे अपना काम करे और कोई दखलंदाज़ी नहीं देगा। इसी का नज़ारा अकबरपुर में देखने को मिला जहां पुलिस ने मऊ सदर से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे और घोसी से विधानसभा चुनाव में बसपा प्रत्याशी रहे अब्बास अंसारी की जिप्सी का हूटर उतरवाते हुए 2000 हज़ार रुपए का चालान किया।




बता दें कि शनिवार को लखनऊ से गाजीपुर जा रहे रहे विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के काफिले वाली जिप्सी हूटर बजाते हुए अकबरपुर कोतवाली के पास से गुजर रही थी. लेकिन जैसे ही इसकी सूचना एसपी पीयूष श्रीवास्तव को हुई, उन्होंने तत्काल बसखारी थाने के सामने काफिले को रोक लिया।



वहीं, जिप्सी के पीछे वाली फॉर्च्यूनर कार में अब्बास अंसारी और उसके पीछे दो अन्य फॉर्च्यूनर कारों में विधायक मुख्तार अंसारी के समर्थक बैठे हुए थे. पुलिस टीम ने जिप्सी पर लगे हूटर को उतरवाया और जिप्सी व तीन अन्य फॉर्च्यूनर कारों की तलाशी ली. हालांकि, उनमें कोई आपत्तिजनक सामान या सामग्री नहीं मिली। इसके बाद पुलिस ने अवैध तरीके से हूटर बजाने पर दो हजार रुपए का चालान काटकर जिप्सी को छोड़ दिया। साथ ही पुलिस ने अब्बास को दोबारा हूटर न लगाने की चेतावनी भी दी।

Loading...