बॉल टेम्परिंग विवाद: फफक फफक कर रोये वार्नर, कहा- शायद मैं ऑस्ट्रेलिया के लिए कभी न खेल पाऊं

बॉल टेम्परिंग विवाद , वार्नर
बॉल टेम्परिंग विवाद: फफक फफक के रोये वार्नर, कहा- शायद मैं ऑस्ट्रेलिया के लिए कभी न खेल पाऊं

नई दिल्ली। बॉल टैम्परिंग मामले में दोषी पाए जाने के बाद एक साल बैन झेल रहे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व उप कप्तान डेविड वॉर्नर ने शनिवार को सार्वजनिक माफी मांगी। वॉर्नर ने रोते हुए कहा कि, मैं बॉल टैंपरिंग की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं। वॉर्नर ने कहा कि, ‘टीम के साथियों और सहायक कर्मचारियों से माफी मांगता हूं और केपटाउन टेस्ट के तीसरे दिन जो भी कुछ मैदान पर घटा, उसके लिए मैं पूरी तरह जिम्मेदार हूं’। वॉर्नर ने संवाददाता सम्मेलन में गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में अपनी भूमिका निभाने की बात कबूली और अपने समर्थकों, सीए, क्रिकेट साउथ अफ्रीका एवं अपने परिवार से रोते हुए माफी भी मांगी।

मरते दम तक रहेगा पछतावा

{ यह भी पढ़ें:- रोहित शर्मा ने शतक के साथ बनाए कई रिकार्ड, विराट को छोड़ा पीछे }

31 वर्षीय अनुभवी खिलाड़ी ने हालांकि मीडिया के सवालों का कोई जवाब नहीं दिया और न ही इसकी पुष्टि की आखिर ऐसी घटनाएं पहले भी हुई हैं या नहीं, इसके जवाब में उन्होंने दोहराया, ”मैं ईमानदारी से कह सकता हूं कि मैं देश का क्रिकेट के जरिए केवल सम्मान बढ़ाना चाहता था। मैंने इसके प्रयास में ऐसा निर्णय ले लिया जिसके उलट परिणाम हुए और मैं निश्चित ही मरते दम तक इसके लिए पछतावा महसूस करूंगा।”  इससे पहले स्मिथ और बेनक्राफ्ट ने भी स्वदेश लौटने पर गुरूवार को मीडिया को संबोधित किया और माफी मांगी।

स्मिथ भी इस फैसले के बारे में सोचते हुए फूट फूट कर रो पड़े थे। तीनों खिलाड़ियों को सीए ने दक्षिण अफ्रीका से तुरंत स्वदेश बुला लिया था जहां जोहानसबर्ग में नए कप्तान टिम पेन के नेतृत्व में आस्ट्रेलियाई टीम आखिरी टेस्ट खेल रही है। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वह 12 महीने के प्रतिबंध के बाद एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद टीम ऑस्ट्रेलिया के नए कोच बने जस्टिन लेंगर }

उन्होंने साथ ही कहा, ‘मेरे दिमाग में कहीं न कहीं यह बात यह है कि एक दिन फिर मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा, लेकिन हो सकता है कि शायद वह दिन अब कभी न आए। वॉर्नर को साउथ अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन टेस्ट के तीसरे दिन सैंडपेपर से गेंद से छेड़छाड़ करने की योजना बनाने दोषी पाया गया था। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की जांच में सामने आया था कि कैसे उन्होंने बैनक्रॉफ्ट को सैंडपेपर से गेंद को खराब करने की सलाह दी थी।

नई दिल्ली। बॉल टैम्परिंग मामले में दोषी पाए जाने के बाद एक साल बैन झेल रहे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व उप कप्तान डेविड वॉर्नर ने शनिवार को सार्वजनिक माफी मांगी। वॉर्नर ने रोते हुए कहा कि, मैं बॉल टैंपरिंग की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं। वॉर्नर ने कहा कि, 'टीम के साथियों और सहायक कर्मचारियों से माफी मांगता हूं और केपटाउन टेस्ट के तीसरे दिन जो भी कुछ मैदान पर घटा, उसके लिए मैं पूरी तरह जिम्मेदार हूं'। वॉर्नर ने संवाददाता सम्मेलन…
Loading...