सपा के राज्यसभा सांसद नीरज शेखर ने दिया इस्तीफा, BJP में हो सकते हैं शामिल

neeraj
सपा के राज्यसभा सांसद नीरज शेखर ने दिया इस्तीफा, BJP में हो सकते हैं शामिल

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद और पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया है। सियासी गलियारों में चर्चा है कि इस साल हुए लोकसभा चुनाव में नीरज अपनी परंपरागत सीट बलिया से टिकट मांग रहे थे, लेकिन सपा ने उन्हें टिकट नहीं दिया। इसपर नीरज पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे थे। चर्चा है कि नीरज भाजपा के खेमे में जा सकते हैं।

Ballia Neeraj Shekhar Reesigned From Rajya Sabha :

बलिया से टिकट ना मिलने से नाराज थे नीरज शेखर

दरअसल नीरज शेखर इस बार लोकसभा चुनावों में बलिया लोकसभा सीट से अपने लिए समाजवादी पार्टी से टिकट मांग रहे थे, वह इस सीट पर 2007 और 2009 में सांसद रह चुके हैं, और 2014 में नीरज को बलिया लोकसभा सीट पर हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने नीरज को टिकट नहीं दिया और उनकी जगह सनातन पांडेय को उम्मीदवार बनाया था।

बीजेपी का थाम सकते है दामन

अटकलें ऐसी भी हैं कि 2020 में नीरज को भारतीय जनता पार्टी राज्यसभा का उम्मीदवार बना सकती है।

वेंकैया नायडू को सौपा इस्तीफा

सूत्रों के अनुसार शेखर ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। उन्होंने व्यक्तिगत कारणों से और स्वेच्छा से इस्तीफा देने की बात की है। सभापति नायडू ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। इस संबंध में सपा की ओर से अब तक किसी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद और पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया है। सियासी गलियारों में चर्चा है कि इस साल हुए लोकसभा चुनाव में नीरज अपनी परंपरागत सीट बलिया से टिकट मांग रहे थे, लेकिन सपा ने उन्हें टिकट नहीं दिया। इसपर नीरज पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे थे। चर्चा है कि नीरज भाजपा के खेमे में जा सकते हैं। बलिया से टिकट ना मिलने से नाराज थे नीरज शेखर दरअसल नीरज शेखर इस बार लोकसभा चुनावों में बलिया लोकसभा सीट से अपने लिए समाजवादी पार्टी से टिकट मांग रहे थे, वह इस सीट पर 2007 और 2009 में सांसद रह चुके हैं, और 2014 में नीरज को बलिया लोकसभा सीट पर हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने नीरज को टिकट नहीं दिया और उनकी जगह सनातन पांडेय को उम्मीदवार बनाया था। बीजेपी का थाम सकते है दामन अटकलें ऐसी भी हैं कि 2020 में नीरज को भारतीय जनता पार्टी राज्यसभा का उम्मीदवार बना सकती है। वेंकैया नायडू को सौपा इस्तीफा सूत्रों के अनुसार शेखर ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। उन्होंने व्यक्तिगत कारणों से और स्वेच्छा से इस्तीफा देने की बात की है। सभापति नायडू ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। इस संबंध में सपा की ओर से अब तक किसी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।