बलूच नेताओं ने सर्जिकल स्ट्राइक का स्वागत किया

नई दिल्ली| बलूच राष्ट्रवादी नेताओं और दुनिया भर के बलूच कार्यकर्ताओं ने भारत द्वारा नियंत्रण रेखा पार कर सर्जिकल स्ट्राइक का गुरुवार को स्वागत किया। उन्होंने इस तरह के अभियानों को जारी रखने का अनुरोध किया। जेनेवा से टेलीफोन पर बलूच रिपब्लिकन पार्टी (बीआरपी) के प्रवक्ता शेर मोहम्मद ने कहा कि यह एक महान दिन है जो हमें उम्मीद देता है। यह बहुत पहले किया जाना चाहिए था। भारत के इस कदम का स्वागत करते हैं। पाकिस्तान आतंकियों के लिए स्वर्ग है और अब यह कैंसर हो चुका है, यदि इसे रोका नहीं गया तो यह दुनिया को बुरी तरह प्रभावित करता रहेगा।




लंदन में चीन दूतावास के बाहर मानवाधिकार की स्थिति और चीन पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर (सीपीईसी) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे बलूच राष्ट्रवादियों ने सर्जिकल स्ट्राइक को एक सही कदम करार दिया। लंदन में फ्री बलूचिस्तान मूवमेंट के फैज मोहम्मद बलूच ने कहा, “यह एक सही कदम है। पूरी दुनिया जानती है कि उरी हमले के पीछे पाकिस्तान था। भारत के पास हमले का जवाब देने की सही वजह है। शांति को भंग करने वालों के लिए यह स्ट्राइक बहुत महत्वपूर्ण है।” दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग के बाहर गुरुवार को प्रदर्शन कर रहे बलूच राष्ट्रवादियों ने कहा कि भारत को इस तरह की स्ट्राइक आतंकवादियों के खात्मे तक जारी रखनी चाहिए।

भारत में प्रचार कर रहे बलूचिस्तान के राष्ट्रवादी मजदक दिलशाद बलूच ने कहा, “हम बहुत खुश हैं। हमारी इच्छा है कि इस तरह की स्ट्राइक रावलपिंडी पर भी की जाए, जहां वास्तविक आतंकवादी हैं। हमें खुशी होगी यदि भारत, बलूचिस्तान में आजादी के लिए संघर्ष कर रहे लोगों की सुरक्षा के लिए इस तरह का स्ट्राइक करता है।”
बलूचिस्तान में मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे मजदक ने कहा, “वहां पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर में बिना वर्दी में आतंकवादी हैं। कश्मीर का अवैध रूप से कब्जाया गया हिस्सा भारत का अभिन्न अंग है और भारतीय सेना द्वारा अपने दुश्मनों पर किया गया सर्जिकल स्ट्राइक गलत नहीं है।”