1. हिन्दी समाचार
  2. यूपी में पान मसाला के निर्माण, वितरण व बिक्री से रोक हटी

यूपी में पान मसाला के निर्माण, वितरण व बिक्री से रोक हटी

Ban On Manufacture Distribution And Sale Of Pan Masala In Up

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली: लॉकडाउन के तीसरी चरण (Lockdown 3.0) में शराब बिक्री की शुरुआत के साथ ही अब उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में पान मसाला बेचने की भी अनुमति दे दी गई है. सरकार ने तीन दिन पहले शराब की बिक्री पर पाबंदी हटाने के बाद बुधवार को पान मसाला की बिक्री तथा उत्पादन से प्रतिबंध हटा लिया है. हालांकि, प्रदेश में तंबाकू, निकोटिनयुक्त पान मसाला, गुटका का निर्माण, भंडारण और बिक्री पर प्रतिबंध जारी रहेगा.  

पढ़ें :- नौतनवां:एक साथ उठी पति-पत्नी की अर्थिया,रो उठा पूरा नगर

एफएसडीए के इस आदेश को आम बोलचाल की भाषा में समझें तो कह सकते हैं कि रजनीगंधा तो बिकेगा, लेकिन तुलसी नहीं बिकेगी. साथ ही अब पान की बिक्री भी शुरू हो सकेगी. गौरतलब है कि लॉकडाउन की वजह से महोबा के पान किसान भुखमरी की कगार पर पहुंच गए थे. अब इस फैसले से पान किसानों को राहत मिलेगी.

सरकार का मानना था कि लोग पान-मसाला और गुटखा खाकर सरकारी दफ्तरों, बाजारों और सार्वजनिक जगहों पर थूकते हैं. जिससे गंदगी तो फैलती ही है, साथ ही कोरोना के संक्रमण का खतरा भी बढ़ सकता है. गुटखा-पान-मसाले को अगले आदेश तक बैन करने के संबंध में आयुक्त खाद्य एवं सुरक्षा की तरफ से आदेश जारी किया था.

वहीं, अब खाद्य सुरक्षा आयुक्त अनीता सिंह ने आदेश जारी किए हैं जिसके तहत अब पान-मसाले का विनिर्माण, वितरण और बिक्री हो सकेगी. बता दें कि उत्तर प्रदेश के कई शहरों में पान-मसाला का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है. लेकिन उन्होंने यह स्पष्ट किया है कि निकोटिनयुक्त पान-मसाले पर पहले की तरह प्रतिबंध जारी रहेगा.

 

पढ़ें :- किसान आंदोलनः 10वें दौर की बातचीत बेनतीजा, 22 जनवरी को होगी अगली बैठक

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...