बच्ची पैदा हुई तो अस्पताल से भाग गई प्रसूता

बांदा: राज्य सरकार लगातार बेटियों के जन्म पर जच्चा-बच्चा को प्रोत्साहित कर रही है, लेकिन कल एक ऐसा मामला सामने आया जब एक प्रसूता ने सरकारी अस्पताल में बच्ची को जन्म देने के बाद वह उसे वहीं छोड़ कर अस्पताल से ही भाग गई।




सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र:सीएचसीः अतर्रा के चिकित्साधिकारी वी.के. श्रीवास्तव ने आज ‘पीटीआई’ को बताया कि ‘मंगलवार की शाम कौशांबी जिले की मंझनपुर कस्बे की नजमा:30ः पत्नी सलीम अपनी चार साल की बेटी के साथ मायके सरबई:मप्रः जा रही थी, अतर्रा कस्बे में पहुंचते ही उसे प्रसव पीड़ा हुई। सहयात्रियों ने उसे यहां अस्पताल में प्रसव के लिए भर्ती कराया था।’ उन्होंने बताया कि ‘गुरुवार की दोपहर उसने एक बच्ची को जन्म देने के बाद अचानक वह नवजात बच्ची को छोड़कर गायब हो गई।’ चिकित्साधिकारी ने बताया कि ‘बच्ची स्वस्थ्य है, प्रसूता का पता लगाया जा रहा है।’





वहीं थानाध्यक्ष भगवती प्रसाद मिश्र ने बताया कि ‘प्रसूता फर्जी नाम पते से अस्पताल में भर्ती हुई थी, अब तक उसका पता नहीं चल सका। चाइल्ड लाइन से संपर्क किया जा रहा है।’ इस प्रसूता के बगल की शैय्या:बिस्तरः की प्रसूता कौशल्या ने बताया कि ‘वह बता रही थी कि पहले से ही उसके एक चार साल की बेटी है, ससुरालीजन दूसरी बेटी को स्वीकार नहीं करेंगे।’

बाँदा से रामलाल जयन की रिपोर्ट