खुलासा : केबिन के अंदर धूम्रपान से हुआ था नेपाल विमान हादसा

nepal plane crash
खुलासा : केबिन के अंदर धूम्रपान से हुआ था नेपाल विमान हादसा

नई दिल्ली। नेपाल की राजधानी काठमांडू में एक साल पहले हुए विमान हादसे में एक नया खुलासा हुआ है। जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद खुलासा हुआ कि पायलट अपने केबिन में स्मोकिंग कर रहा था, जिसकी वजह से ये हादसा हो गया। बता दें कि यूएस-बांग्ला एयरलाइंस का विमान उस वक्त दुर्घटनाग्रस्त हुआ था, जब वो लैंडिंग कर रहा था।

Bangla Kathmandu Plane Crash Was Due To Smoking In Cockpit :

बता दें कि यूएस-बांग्ला एयरलाइंस की नीति नो स्मोकिंग की रही है। इसके बावजूद भी पायलट स्मोकिंग कर रहा था। बताया जा रहा है कि इसका खुलासा कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से हुआ। जांच में खुलासा हुआ कि ये घटना सिर्फ और सिर्फ क्रू की गलती की वजह से हुआ था। इतना ही नहीं रिपोर्ट ने न सिर्फ विमान के क्रू बल्कि त्रिभुवन एयरपोर्ट के कंट्रोल टावर को भी जिम्मेदार ठहराया।

इस घटना में ज्यादातर यात्रियों की सिर में चोट लगने के कारण मौत हुई थी, जबकि कुछ यात्री जलकर मरे थे। गौरतलब है कि 12 मार्च, 2018 को नेपाल की राजधानी काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट में यूएस-बांग्ला एयरलाइंस के साथ ये घटना हुई थी। विमान में लैंडिंग के वक्त लगी आग से 51 लोगों की मौत हो गई।

नई दिल्ली। नेपाल की राजधानी काठमांडू में एक साल पहले हुए विमान हादसे में एक नया खुलासा हुआ है। जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद खुलासा हुआ कि पायलट अपने केबिन में स्मोकिंग कर रहा था, जिसकी वजह से ये हादसा हो गया। बता दें कि यूएस-बांग्ला एयरलाइंस का विमान उस वक्त दुर्घटनाग्रस्त हुआ था, जब वो लैंडिंग कर रहा था। बता दें कि यूएस-बांग्ला एयरलाइंस की नीति नो स्मोकिंग की रही है। इसके बावजूद भी पायलट स्मोकिंग कर रहा था। बताया जा रहा है कि इसका खुलासा कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से हुआ। जांच में खुलासा हुआ कि ये घटना सिर्फ और सिर्फ क्रू की गलती की वजह से हुआ था। इतना ही नहीं रिपोर्ट ने न सिर्फ विमान के क्रू बल्कि त्रिभुवन एयरपोर्ट के कंट्रोल टावर को भी जिम्मेदार ठहराया। इस घटना में ज्यादातर यात्रियों की सिर में चोट लगने के कारण मौत हुई थी, जबकि कुछ यात्री जलकर मरे थे। गौरतलब है कि 12 मार्च, 2018 को नेपाल की राजधानी काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट में यूएस-बांग्ला एयरलाइंस के साथ ये घटना हुई थी। विमान में लैंडिंग के वक्त लगी आग से 51 लोगों की मौत हो गई।