पांच दिन बंद बैंक बंद रहने से ग्राहक रहेंगे परेशान

बिजनौर। दशहरा व अन्य अवकाशों के कारण सभी बैंक अगले पांच दिनों तक लगातार बंद रहेंगे। बैंक में रूपए जमा करने अथवा ड्राफ्ट आदि का कार्य कराने वाले लोग तो परेशान रहेंगे ही, एटीएम खाली होने के बाद रूपए निकालने के लिए भी लोगों को भटकना पड़ेगा। बैंक बंदी से पहले अंतिम दिन होने के कारण बैंकों में भारी भीड़ देखी गई।




शनिवार से पूरे प्रदेश में बैंकों पर ताले लटके मिलेंगे। ये ताले किसी हड़ताल के लिए नहीं डलेंगे, बल्कि त्यौहारों के अवकाश होने के कारण बैंकों को बंद रखा जाएगा। दरसअल शनिवार को सैकिंड सटरडे का अवकाश रहेगा, जबकि रविवार को साप्ताहिक अवकाश रहता ही है। सोमवार को राम नवमी, मंगलवार को दशहरा व बुधवार को मोहर्रम है, इस कारण इन तीनों दिन भी बैंकों का अवकाश रहेगा। लगातार एक के बाद एक त्यौहार होने के कारण पांच दिनों तक लगातार बैंक बंद रहेंगे। जिन लोगों को बैंकों में रूपया जता करना है अथवा ड्राफ्ट आदि बनवाने का कार्य करना है, वे तो परेशान होंगे ही, लेकिन जिन लोगों को रूपया निकालना है, उन्हे भी भटकना पड़ेगा।

इसका कारण यह है कि बैंक बंद होने पर रूपए निकालने के लिए विकल्प के रूप में एटीएम बचते हैं। बैंक उपभोक्ता अपने कार्ड का प्रयोग कर एटीएम से रूपए निकाल लेते हैं। पांच दिनों तक लगातार बैंक बंद होने के कारण एटीएम में भी रूपए नहीं डाले जाएंगे, जबकि त्यौहार होने के कारण रूपए निकालने का कार्य अन्य दिनों के मुकाबले अधिक होगा। ऐसे में इस संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता कि अधिकांश एटीएम में रखा रूपया ज्यादा से ज्यादा दो दिन में समाप्त हो जाएगा।

एटीएम खाली होने पर लोगों को रूपए निकालने के लिए एक एटीएम से दूसरे एटीएम तक भटकने के सिवाए कोई और रास्ता नहीं होगा। उधर बैंकों के कई दिनों तक बंद होने के कारण होने वाली परेशानी को समझते हुए शुक्रवार को लगभग सभी बैंकों में ग्राहकों की भारी भीड़ रही। लोगों में रूपए निकालने, जमा करने व अन्य कार्यो के लिए आपाधापी मची रही।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट