अब बैंक नहीं लेंगे 200 और 2000 के कटे-फटे और गंदे नोट

बैंक , 200 और 2000 के फटे नोट
अब बैंक नहीं लेंगे 200 और 2000 के कटे-फटे और गंदे नोट

नई दिल्ली। अगर आपके पास भी 200 और 2000 रुपये के कटे-फटे या गंदे नोट पड़े हैं तो सावधान हो जाइये। बता दें कि अगर किसी वजह से ये नोट गंदे हो जाएं या तो फट जाएं तो इन्हें न तो बैंक जमा करेगा और न ही इन्हें बदलेगा। इसकी वजह यह है कि करंसी नोटों के एक्सचेंज से जुड़े नियमों के दायरे में इन नए नोटों को रखा ही नहीं गया है।

Banks Will Not Accept Soiled Or Mutilated Rs 200 Rs 2000 :

कटे-फटे या गंदे नोटों को एक्सचेंज का मामला आरबीआई रूल्स के तहत आता है, जो आरबीआई ऐक्ट के सेक्शन 28 का हिस्सा है। इस ऐक्ट में 5, 10, 50, 100, 500, 1,000, 5,000 और 10,000 रुपये के करंसी नोटों का जिक्र है, लेकिन 200 और 2,000 रुपये के नोटों को इसमें जगह नहीं दी गई है। इसकी वजह यह है कि सरकार और आरबीआई ने इनके एक्सचेंज पर लागू होनेवाले प्रावधानों में बदलाव नहीं किए हैं।

2,000 रुपये का नोट 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी के ऐलान के बाद जारी किया गया था जबकि 200 रुपये का नोट अगस्त 2017 में जारी किया गया था। अभी 2,000 रुपये के करीब 6.70 लाख करोड़ रुपये मूल्य के नोट सर्कुलेशन में हैं और आरबीआई ने अब 2,000 रुपये के नोट छापना बंद कर दिया है। यह बात 17 अप्रैल को इकनॉमिक अफेयर्स सेक्रटरी सुभाष सी गर्ग ने बताई थी।

नई दिल्ली। अगर आपके पास भी 200 और 2000 रुपये के कटे-फटे या गंदे नोट पड़े हैं तो सावधान हो जाइये। बता दें कि अगर किसी वजह से ये नोट गंदे हो जाएं या तो फट जाएं तो इन्हें न तो बैंक जमा करेगा और न ही इन्हें बदलेगा। इसकी वजह यह है कि करंसी नोटों के एक्सचेंज से जुड़े नियमों के दायरे में इन नए नोटों को रखा ही नहीं गया है। कटे-फटे या गंदे नोटों को एक्सचेंज का मामला आरबीआई रूल्स के तहत आता है, जो आरबीआई ऐक्ट के सेक्शन 28 का हिस्सा है। इस ऐक्ट में 5, 10, 50, 100, 500, 1,000, 5,000 और 10,000 रुपये के करंसी नोटों का जिक्र है, लेकिन 200 और 2,000 रुपये के नोटों को इसमें जगह नहीं दी गई है। इसकी वजह यह है कि सरकार और आरबीआई ने इनके एक्सचेंज पर लागू होनेवाले प्रावधानों में बदलाव नहीं किए हैं।2,000 रुपये का नोट 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी के ऐलान के बाद जारी किया गया था जबकि 200 रुपये का नोट अगस्त 2017 में जारी किया गया था। अभी 2,000 रुपये के करीब 6.70 लाख करोड़ रुपये मूल्य के नोट सर्कुलेशन में हैं और आरबीआई ने अब 2,000 रुपये के नोट छापना बंद कर दिया है। यह बात 17 अप्रैल को इकनॉमिक अफेयर्स सेक्रटरी सुभाष सी गर्ग ने बताई थी।