1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बाराबंकी: मुख्तार अंसारी द्वारा इस्तेमाल की गई एंबुलेंस मामले में दर्ज किया गया मुकदमा

बाराबंकी: मुख्तार अंसारी द्वारा इस्तेमाल की गई एंबुलेंस मामले में दर्ज किया गया मुकदमा

इस संबंध में बाराबंकी एसपी ने बताया, "परिवहन विभाग द्वारा एंबुलेंस के बारे में दी गई सूचना से पता चला कि इसमें लगे दस्तावेज फर्जी थे। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, फर्जी दस्तावेज बनाने में शामिल लोगों पर कार्रवाई होगी।"

By Manali Rastogi 
Updated Date

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को लेकर एक और मामला सामने आया है। दरअसल, अंसारी द्वारा इस्तेमाल की गई एंबुलेंस मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है। इस संबंध में बाराबंकी एसपी ने बताया, “परिवहन विभाग द्वारा एंबुलेंस के बारे में दी गई सूचना से पता चला कि इसमें लगे दस्तावेज फर्जी थे। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, फर्जी दस्तावेज बनाने में शामिल लोगों पर कार्रवाई होगी।”

पढ़ें :- UP Election 2022 : आचार्य प्रमोद का माया पर पलटवार, बोले- प्रियंका गांधी सीएम नहीं, बल्कि पीएम फेस हैं

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 26 मार्च को मुख्तार के मुकदमें और उनकी कस्टडी ट्रांसफर की याचिका पर फैसला सुनाया था। कोर्ट ने कहा था कि अंसारी को दो हफ्ते के अंदर उत्तर प्रदेश की जेल में शिफ्ट करना होगा। पंजाब सरकार की दलीलों से कोर्ट संतुष्ट नहीं हुआ था। मालूम हो, सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पंजाब सरकार को बड़ा झटका लगा है। ऐसे में यूपी सरकार अंसारी को वापस राज्य लाने में सफल हो गयी है।

यूपी सरकार मुख्तार को लगातार यूपी लाने का प्रयास कर रही थी। हालांकि, मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया था। कोर्ट के फैसले के बाद मुख्तार को यूपी लाने का रास्ता साफ हो गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...