लवली के बाद बरखा सिंह ने थामा कमल

नई दिल्ली। दिल्ली के निकाय चुनावों के लिए होने वाले मतदान से ठीक पहले दिल्ली कांग्रेस की दिग्गज महिला नेता और दिल्ली कांग्रेस की महिला इकाई की अध्यक्ष बरखा सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है। बरखा सिंह से पहले दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और शीला दीक्षित सरकार में मंत्री अमरिंदर सिंह लवली ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी। इन दोनों नेताओं के कांग्रेस से अलग होने को पार्टी को भविष्य में होने वाले भारी नुकसान के रूप में देखा जा रहा है।




बरखा सिंह ने भाजपा में शामिल होते समय कहा कि पिछले पांच सालों से कांग्रेस हाईकमान और पार्टी के लोगों के बीच संवाद खत्म हो चुका है। पार्टी के भीतर अपनी बात रखने के लिए कोई मंच नहीं था इसलिए उन्होंने पार्टी को छोड़ना बेहतर समझा।

इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने बरखा सिंह और उनके समर्थकों को भाजपा की सदस्यता ग्रहण करवाते हुए सभी का पार्टी में स्वगात किया। गोयल ने उम्मीद जताई है कि बरखा सिंह के भाजपा में शामिल होने से महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए काम कर रही पार्टी की टीम को मजबूती मिलेगी। पार्टी नेता श्याम जाजू ने बरखा सिंह के भाजपा में शामिल होने पर कहा कि उन्हें खुशी है कि बरखा सिंह ने भाजपा में शामिल होकर जमीनी स्तर पर काम करना स्वीकार किया है।




आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही बरखा सिंह ने कांग्रेस के राष्ट्रीय उपध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन पर निशाना साधा था। जिसके बाद पार्टी ने बरखा सिंह के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए छह साल के लिए उनकी पार्टी सदस्यता को निलंबित कर दिया था।