1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. बसंत पंचमी 2022: मां सरस्वती को प्रसन्न करने के लिए करें ये 10 उपाय

बसंत पंचमी 2022: मां सरस्वती को प्रसन्न करने के लिए करें ये 10 उपाय

Basant Panchami 2022: माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मां सरस्वती की पूजा की जाती है. जानिए कौन से उपाय करना आपके लिए फायदेमंद साबित होगा।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी के रूप में मनाया जाता है। इस दिन विद्या और कला की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है। छात्रों को इस दिन देवी सरस्वती की पूजा करनी चाहिए क्योंकि यह शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि देवी सरस्वती की पूजा करने से ज्ञान से संबंधित सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं। साथ ही सुख-समृद्धि भी होती है। जानिए बसंत पंचमी के दिन कौन से शुभ उपाय करने हैं।

पढ़ें :- Basant Panchami 2022: बसंत पंचमी के दिन राशि के अनुसार करें दान, मिलेगी सफलता

यदि आप शीघ्र ही किसी लेखन प्रतियोगिता में भाग लेने जा रहे हैं या कोई प्रतियोगी परीक्षा देने जा रहे हैं तो इस दिन आप एक कलम लें और उस पर हल्दी, चावल लगाकर कलम की पूजा करें और बाद में उसी कलम से पत्र लिखें।

यदि आप उच्च शिक्षा ग्रहण करने में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आपको मां सरस्वती के इस मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए। मंत्र है  लक्ष्य ह्रीं श्री क्लें सरस्वती नमः’। मंत्र जाप के साथ-साथ विद्या यंत्र भी धारण करना चाहिए।

अगर आप प्यार के लिए किसी व्यक्ति का पीछा करना चाहते हैं, तो आपको उस व्यक्ति के बारे में सोचते हुए कामदेव के इस वशीकरण मंत्र का 21 बार जाप करना चाहिए। मंत्र है ‘ऊँ नमः काम-देवाय’। सकल जन सर्वजन मम् दर्शने उत्कण्ठधर कुरु कुरु, दक्ष इक्षु धर कुसुम-वणेन हन हन स्वाहा।’ (O नमः काम-देवया। सकल जन सर्वजनं मम दर्शन उत्कंथितम कुरु कुरु, दक्ष इक्षु धर कुसुम-वनें हन हन स्वाहा

अगर आपका जीवनसाथी आपसे नाराज है तो उसे मनाने के लिए आप सफेद कोरे कागज पर सिंदूर से ‘क्लींग’ लिखकर उसे मोड़कर अपने जीवनसाथी के कपड़ों की अलमारी में रख दें।

पढ़ें :- Basant Panchami 2022: बसंत पंचमी के दिन  करें ये काम तो बच्चों का मन पढ़ाई में लगने लगेगा

यदि आप लंबे समय से एक अच्छे पति या अच्छी पत्नी की तलाश में हैं तो आपको कामदेव के मोनोसिलेबिक मंत्र ‘क्लिं’ के साथ दही के साथ मिश्रित धान के लावा से हवन करना चाहिए।

यदि आपका बच्चा अभी भी छोटा है और वह स्कूल जाता है और आप चाहते हैं कि वह भविष्य में एक अच्छा वक्ता बने और लोग उसकी बातों से प्रभावित हों, तो बसंत पंचमी के दिन आपको अनार के आकार की कलम का इस्तेमाल करना चाहिए या हो सके तो सोने की सुई को उसमें डुबाना चाहिए। शहद और माता सरस्वती का ध्यान करते हुए बच्चे की जीभ पर ‘ऐं’ लिखें।

अगर आप किसी को अपनी ओर आकर्षित करना चाहते हैं, तो आपको उस व्यक्ति के चेहरे के बारे में सोचना चाहिए जिसके हाथ में पीले फूल हों और कामदेव के इस विशेष मंत्र का 108 बार जाप करें। मंत्र है- “ऊँ नमो भगवते कामदेव, येस्य येस्य व्यूओ भवामि, यश्च यश्च मममुख पछ्यति तत मोहयतु स्वायहा  नमो भगवते कामदेवय, यस्य यस्य दृष्टिनो भवमी, यस्चा यस्चा मम मुखं पच्यति तत् मोहयतु स्वाहा)। इस मंत्र का जाप करने के बाद उन फूलों को होली तक अपने पास रखें। इसके बाद इसे बहते पानी में फेंक दें।

यदि आप अपने दांपत्य जीवन में नए जोश की हवाएं बहाल करना चाहते हैं तो पीले रंग के कपड़े पहनकर कामदेव के इस मंत्र का 108 बार जाप करें। मंत्र है- ‘ऊँ कामदेवाय: विदमहे पुष्पबानाय धीमहि तन्नो अनंग: प्रचोदयात।’ (ओम कामदेवाय: विद्माहे पुष्पबनय धीमः तन्नो अनंग: प्रचोदयत।

यदि आप संगीतकार, गायक या संगीत की किसी अन्य विधा से संबंध रखते हैं और जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं, तो आपको स्नान करने के बाद देवी सरस्वती की पूजा करनी चाहिए और देवी सरस्वती को पीले रंग की मिठाई का भोग लगाना चाहिए। साथ ही इस मंत्र का 11 बार जाप करें ‘ऊं ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं सरस्वत्यै नमः।’ (m लक्ष्य ह्रीं श्री क्लें सरस्वतीै नमः

पढ़ें :- Basant Panchami 2022 : बसंत पंचमी पर होगा सिद्ध, साध्य, रवि योग का संगम , इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा

यदि आप अपने वैवाहिक संबंधों में प्रेम बनाए रखना चाहते हैं तो आपको भगवती रति, कामदेव की पूजा करनी चाहिए और उन्हें फूल अर्पित करना चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...