1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Basant Panchami 2023 : बसंत पंचमी के दिन पीले रंग माला देवी सरस्वती को चढ़ायें , बच्चों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा

Basant Panchami 2023 : बसंत पंचमी के दिन पीले रंग माला देवी सरस्वती को चढ़ायें , बच्चों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा

ज्ञान, बुद्धि और कला की देवी मां सरस्वती की पूजा बसंत पंचमी के दिन होती है। बसंत ऋतु में पड़ने वाले इस पर्व को पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है।  

By अनूप कुमार 
Updated Date

Basant Panchami 2023 : ज्ञान, बुद्धि और कला की देवी मां सरस्वती की पूजा बसंत पंचमी के दिन होती है। बसंत ऋतु में पड़ने वाले इस पर्व को पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है।  बसंत को ऋतुराज कहा गया है। इस ऋतु के आने पर सर्दी कम हो जाती है, मौसम सुहावना हो जाता है, पेड़ों में नए पत्ते आने लगते हैं, आम के पेड़ बौरों से लद जाते हैं और खेत सरसों के फूलों से भरे पीले दिखाई देते हैं। हर साल माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को पूरे विधि विधान से देवी मां सरस्वती की पूजा की जाती है। इस बार यह तिथि 26 जनवरी 2023, गुरुवार को पड़ रही है।

पढ़ें :- Basant Panchami 2023: बसंत पंचमी के दिन बच्चे के स्टडी रूम में माता सरस्वती की तस्वीर रखें, विद्या का वरदान मिलता है

मान्यताओं के अनुसार बसंत पंचमी के दिन पीले फूलों की माला बहुत शुभ मानी जाती है। बसंत पंचमी के दिन पीले रंग का विशेष महत्व है क्योंकि मां पार्वती को पीला रंग अतिप्रिय है और इस दिन यदि उन्हें पीले रंग के फूलों से बनी माला अर्पित की जाए तो वह प्रसन्न होती हैं। इसलिए बसंत पंचमी के दिन पूजा से पूर्व पीले रंग के फूलों की माला घर में अवश्य लेकर आएं।

इस दिन आप घर में मां सरस्वती की प्रतिमा, फोटो या कोई मूर्ति लेकर आते हैं तो शुभ होता है। इस प्रतिमा को घर के ईशान कोण में लगाएं, इससे बच्चों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और बच्चे पढ़ाई में भी अच्छा करेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...