1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Basant Panchami 2023: बसंत पंचमी पर पहना जाता है पीला रंग, मां सरस्वती की होती है कृपा

Basant Panchami 2023: बसंत पंचमी पर पहना जाता है पीला रंग, मां सरस्वती की होती है कृपा

'विद्या ददाति विनयम' यह वाक्य सदियों से विद्यार्थियों को बताया जा रहा है। विद्या को  जीवन के हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने का साधन माना गया है। विद्या की देवी मां सरस्वती  है। पुरातन काल से ही मां सरस्वती की पूजा होती आ रही है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Basant Panchami 2023 : ‘विद्या ददाति विनयम’ यह वाक्य सदियों से विद्यार्थियों को बताया जा रहा है। विद्या को  जीवन के हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने का साधन माना गया है। विद्या की देवी मां सरस्वती  है। पुरातन काल से ही मां सरस्वती की पूजा होती आ रही है। विद्या , वाणी में कौशल प्राप्त करने के लिए देवी सरस्वती पूजा बहुत आवश्यक है। हर साल हिंदू पंचांग के अनुसार माघ शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि पर बसंत पंचमी मनाई जाती है और मां सरस्वती (Ma Saraswati) का पूजन होता है। इस साल 26 जनवरी, गुरुवार के दिन बसंत पंचमी मनाई जाएगी। बसंत पंचमी पर पीले रंग के वस्त्र पहनना अत्यधिक महत्वपूर्ण माना जाता है।

पढ़ें :- Budh Gochar 2023 : बुध के गोचर से इन राशियों की बदलने वाली है किस्मत, होगी तरक्की

1.बसंत पंचमी के दिन बच्चे के वाणी दोष के लिए उपाय कर सकते हैं।यदि किसी बच्चे को वाणी दोष है तो बसंत पंचमी के दिन उसकी जीभ पर चांदी की सलाई या पेन की नोक से केसर की मदद से ‘ऐं’ लिख दें। ऐसी मान्यता है कि इससे बच्चे की जुबान ठीक हो सकती है।

2.बच्चे का मन पढ़ाई में नहीं लगता। हर वक्त पढ़ाई से जी चुराता है तो बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को हरे रंग फल अर्पित करना चाहिए।

3.बच्चे के स्टडी रूम में माता सरस्वती का एक चित्र रखें और बच्चे को पढ़ाई करने से पहले नियमित रूप से माता को हाथ जोड़ कर प्रणाम करने के लिए कहें।

पढ़ें :- February 2023 Vrat Tyohar : फुलेरा दूज पर श्री कृष्ण और राधा रानी फूलों की होली खेलते हैं, जानिए फरवरी माह के व्रत त्योहार
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...