1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. भृगु संहिता की अंक गणना के आधार पर फडणवीस का मुख्यमंत्री और शिंदे डिप्टी सीएम बनने के हैं प्रबल योग

भृगु संहिता की अंक गणना के आधार पर फडणवीस का मुख्यमंत्री और शिंदे डिप्टी सीएम बनने के हैं प्रबल योग

राजस्थान के भीलवाड़ा के कारोई गांव (Karoi Village) के ज्योतिषाचार्य योगेश शरण शास्त्री (Astrologer Yogesh Sharan Shastri) ने महाराष्ट्र सरकार में सियासी उठापटक को लेकर बड़ी भविष्यवाणी की है। महाराष्ट्र में उद्वव ठाकरे सरकार (Udvav Thackeray Government) को लेकर चल रही उठापठक के बीच योगेश शरण शास्त्री ( Yogesh Sharan Shastri) ने भृगु संहिता (Bhrigu Samhita) की अंक गणितीय गणना की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। राजस्थान के भीलवाड़ा के कारोई गांव (Karoi Village) के ज्योतिषाचार्य योगेश शरण शास्त्री (Astrologer Yogesh Sharan Shastri) ने महाराष्ट्र सरकार में सियासी उठापटक को लेकर बड़ी

पढ़ें :- Jammu and Kashmir: जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से हमला, एक जवान सहित दो लोग घायल, सर्च ऑपरेशन शुरू

महाराष्ट्र में उद्वव ठाकरे सरकार (Udvav Thackeray Government) को लेकर चल रही उठापठक के बीच योगेश शरण शास्त्री ( Yogesh Sharan Shastri) ने भृगु संहिता (Bhrigu Samhita) की अंक गणितीय गणना की है। जिसके आधार पर उन्होंने कहा कि उद्वव सरकार (Udvav  Government)के अल्पमत में आने से सरकार का जाना तय है। इसके साथ ही महाराष्ट्र में नई सरकार भाजपा गठबंधन (BJP Alliance) से ही बनेगी।

पंडित योगेश शरण शास्त्री (Yogesh Sharan Shastri)ने बताया कि 28 अप्रैल 2022 को मकर राशि से शनि ने कुंभ राशि में प्रवेश किया। डेढ महीने बाद ही शनि ग्रह के वक्री होने के कारण सरकार में उठापटक होने के योग बने हैं। इसमें उद्वव सरकार (Udvav  Government) का परिवर्तन होने का शत प्रतिशत योग है। महाराष्ट्र में भाजपा के साथ गठबंधन सरकार के बनने और देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के मुख्यमंत्री बनने के प्रबल योग हैं। इसके साथ ही एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के उपमुख्यमंत्री बनने के योग हैं।

भविष्यवाणी की है। वहीं महाराष्ट्र में चल रहे सियासी उठापठक का परिणाम क्या निकलेगा यह तो भविष्य के गर्भ में है, लेकिन कारोई के ज्योतिष की मानें तो उद्धव सरकार अल्पमत में आकर गिर जाएगी और यहां गठबंधन की सरकार बनेगी। भृगु संहिता के जानकर वयावृद्ध ज्योतिषी पंडित नाथूलाल व्यास का भविष्यवाणी करने के लिए प्रसिद्ध हैं। उनकी दूसरी पीढ़ी में ज्योतिष पंडित योगेश शरण शास्त्री, पंडित ओमप्रकाश व्यास, पंडित गोपाल दाधीच सहित कई शामिल हैं। भृगु संहिता ऐसा ग्रंथ है जिसमें ज्योतिष संबंधी समस्त जानकारियां दी गई हैं।

इस संहिता में कुंडली के लग्न के आधार पर भी बताया गया है कि व्यक्ति का भाग्योदय कब हो सकता है। ऋषि भृगु की ख्याति एक ऐसे कालातीत भविष्यवक्ता के रूप में है, जो भूत, भविष्य और वर्तमान पर समान दृष्टि रखते थे। इस शास्त्र से प्रत्येक व्यक्ति की तीन जन्मों की जन्मपत्री बनाई जा सकती है। भृगु संहिता ज्योतिष का एक विशाल ग्रंथ है।

पढ़ें :- सुब्रमण्यम स्वामी का PM मोदी पर तंज, पूछा-इस साल 15 अगस्त के भाषण में क्या वादा करने जा रहे हैं?

दावा-भृगु संहिता में दुनिया के हर व्यक्ति का भाग्य अंकित

ज्योतिषी ज्योतिष पंडित योगेश शरण शास्त्री बताते हैं कि मुझे ज्योतिष का काम पारिवारिक विरासत में मिला है। उन्होंने कहा कि भृगु संहिता में दुनिया के हर व्यक्ति का भाग्य अकिंत है। यह केवल वैदिक गणित से सही गणना होने पर सटीक बैठता है। आने वाले जातक के जन्मदिनांक, जन्म व लग्न कुंडली के आधार पर भृगु संहिता के शुभांक से उसका फलादेश निकाला जाता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...