छत्तीसगढ़: नक्सलियों ने खेली खून की होली, 11 जवान शहीद

Bastar Sukma Naxalite Attack Crpf Jawan

बस्तर। होली त्यौहार से ठीक पहले सीआरपीएफ़ जवानों ने नक्सलियों के साथ खून की होली खेल डाली। छत्तीसगढ़ के बस्तर में नक्सलियों ने सीआरपीएफ़ जवानों की एक बटालियन पर घात लगाकर हमला किया। इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। इस हमले मे सीआरपीएफ़ के 11 जवान शहीद हो गए जबकि पांच जवान बुरी तरह से ज़ख्मी हो गए, साथ ही 4 जवानों को मामूली चोटें भी आई हैं। नक्सलियों ने शहीद जवानों के हथियार और मोबाइल फोन भी लूट लिये।



कहाँ और क्यों हुई फायरिंग–





आपको बता दें कि बस्तर में नक्सलियों ने सड़क निर्माण पर पाबंदी लगा रखी है। नक्सली ना ही निर्माण एजेंसियों को काम करने देते हैं और ना ही मजदूरों को। इसी के चलते सुकमा, दंतेवाड़ा, बीजापुर और कांकेर के जंगलो के भीतर बसे कई गांवों में सड़को के निर्माण का काम पुलिस और केंद्रीय सुरक्षाबलों ने अपने हाथों में ले रखा है।

कैसे शुरू हुई फायरिंग—





सीआरपीएफ़ का गश्ती दल इस बात से बेखबर था कि जंगलो में नक्सलियों का सामना करना पड़ सकता है। भेज्जी इलाके में तीन सौ से ज्यादा नक्सलियों का जमावड़ा छुपा बैठा था और ये दल एक निर्माण स्थल की तरफ जाने लगा। इससे पहले कि सीआरपीएफ़ के जवान उस जगह तक पहुंच पाते, नक्सलियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। तभी जवानों ने भी पलट कर फायरिंग करना शुरू कर दिया।

करीब डेढ़ घंटे तक नक्सली और सीआरपीएफ़ के जवानों ने आमने सामने फायरिंग होती रही। नक्सलियों की संख्या ज़्यादा होने की वजह से फायरिंग के दौरान कई जवानों घायल हो गए और कई जवानों को नक्सलियों ने गोली से छलनी कर दिया।

बस्तर। होली त्यौहार से ठीक पहले सीआरपीएफ़ जवानों ने नक्सलियों के साथ खून की होली खेल डाली। छत्तीसगढ़ के बस्तर में नक्सलियों ने सीआरपीएफ़ जवानों की एक बटालियन पर घात लगाकर हमला किया। इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। इस हमले मे सीआरपीएफ़ के 11 जवान शहीद हो गए जबकि पांच जवान बुरी तरह से ज़ख्मी हो गए, साथ ही 4 जवानों को मामूली चोटें भी आई हैं। नक्सलियों ने शहीद जवानों के हथियार और मोबाइल…