BCCI सीईओ ने जताई उम्मीद, विदेशी खिलाड़ियों के साथ मानसून के बाद IPL संभव

ipl
BCCI सीईओ ने जताई उम्मीद, विदेशी खिलाड़ियों के साथ मानसून के बाद IPL संभव

कोरोनावायरस के कारण बंद पड़े क्रिकेट की वापसी का फैंस को इंतजार है. खास तौर पर अनिश्चितकाल के लिए स्थगित की गई इंडियन प्रीमियर लीग के आयोजन की राह बीसीसीआई, फ्रेंचाइजी, क्रिकेटर्स और फैंस लगातार देख रहे हैं. ऐसा माना जा रहा है कि बीसीसीआई ने आईपीएल के आयोजन के लिए एक वक्त भी तय कर लिया है. वहीं बोर्ड के सीईओ ने भी संकेत दिए हैं कि इस साल मानसून के बाद आईपीएल की वापसी हो सकती है.

Bcci Ceo Expresses Hope Ipl Possible After Monsoon With Foreign Players :

25 सितंबर से 1 नवंबर की विंडो पर विचार

न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, आईपीएल के 13वें सीजन के आयोजन के लिए बीसीसीआई ने 25 सितंबर से 1 नवंबर के बीच का वक्त तय किया है. बोर्ड से जुड़े एक सूत्र के हवाले से आईएएनएस ने बताया कि इसके लिए बहुत सी चीजों का सही होना भी जरूरी है और उनका इंतजार किया जा रहा है.

आईएएनएस से बात करते हुए सूत्र ने बताया, “बीसीसीआई 25 सितंबर से 1 नवंबर के बीच की विंडो पर काम कर रही है, लेकिन ये तब ही संभव है अगर देश में कोरोना के मामलों में कमी आए और सरकार की ओर से इजाजत मिले.”

वहीं एक फ्रेंचाइजी से जुड़े अधिकारी ने बताया कि बोर्ड ने सभी फ्रेंचाइजी को इन तारीखों को ध्यान में रखते हुए अपनी तैयारी और योजना बनाने को कहा है. इस अधिकारी ने बताया कि फ्रेंचाइजी को भी मार्केटिंग और विज्ञापन समेत कई चीजों की तैयारी करनी होती है और उनमें महीने भर का वक्त लग सकता है.

T20 वर्ल्ड कप पर फैसला जरूरी

वहीं आईपीएल से जुड़े एक और अधिकारी ने कहा कि सिर्फ तारीखों को लेकर जानकारी दी गई है, लेकिन अभी वेन्यू और लॉजिस्टिक जैसे मुद्दों पर स्थिति साफ नहीं है. इस अधिकारी ने कहा कि अगर सितंबर में पहला मैच खेलना होगा, तो उसके लिए अगस्त से ही तैयारी शुरू करनी होंगी.

हालांकि ये सब इतना आसान नहीं है. आईपीएल के आयोजन में सबसे बड़ी रुकावट है ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 वर्ल्ड कप. पुरुषों का टी20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक खेला जाना है और अभी उसके स्थगित या रद्द होने पर कोई फैसला नहीं हुआ है.

मानसून के बाद संभावनाः जौहरी

दूसरी ओर बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने संकेत दिया है कि देश मानसून सीजन के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों को शामिल कर आईपीएल हो सकता है. बुधवार को एक वेबिनार में हिस्सा लेते हुए उन्होंने कहा, “आईपीएल का फ्लेवर ही ये है कि यहां दुनिया के सबसे बेहतरीन क्रिकेटर खेलते हैं और हम सब इसको बरकरार रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं. लेकिन ये एक वक्त पर एक कदम जैसा होगा.”

उन्होंने कहा कि चौथे चरण के लॉकडाउन खत्म होने के बाद मानसून शुरू होगा और उसके बाद ही क्रिकेट शुरू हो पाएगा. सरकारी दिशा-निर्देशों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, “आपको प्रैक्टिस से पहले खिलाड़ियों के 14 दिन के क्वारंटीन के बारे में भी सोचना है. ऐसे में कई चीजें हैं, लेकिन हमें उम्मीद है कि मानसून के बाद हालात सुधरेंगे और फिर हम इस दिशा में आगे बढ़ेंगे.”

आईपीएल के 13वें सीजन का आयोजन 29 मार्च से मुंबई में होना था, लेकिन मार्च की शुरुआत में देश में कोरोना के मामले बढ़ने के कारण बीसीसीआई ने इसे 15 अप्रैल तक टाल दिया था. इस बीच देश में पहले दौर का लॉकडाउन भी खत्म हुआ और दूसरे दौर का लॉकडाउन शुरू हुआ जिसके बाद बोर्ड ने इसे अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया.  

कोरोनावायरस के कारण बंद पड़े क्रिकेट की वापसी का फैंस को इंतजार है. खास तौर पर अनिश्चितकाल के लिए स्थगित की गई इंडियन प्रीमियर लीग के आयोजन की राह बीसीसीआई, फ्रेंचाइजी, क्रिकेटर्स और फैंस लगातार देख रहे हैं. ऐसा माना जा रहा है कि बीसीसीआई ने आईपीएल के आयोजन के लिए एक वक्त भी तय कर लिया है. वहीं बोर्ड के सीईओ ने भी संकेत दिए हैं कि इस साल मानसून के बाद आईपीएल की वापसी हो सकती है. 25 सितंबर से 1 नवंबर की विंडो पर विचार न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, आईपीएल के 13वें सीजन के आयोजन के लिए बीसीसीआई ने 25 सितंबर से 1 नवंबर के बीच का वक्त तय किया है. बोर्ड से जुड़े एक सूत्र के हवाले से आईएएनएस ने बताया कि इसके लिए बहुत सी चीजों का सही होना भी जरूरी है और उनका इंतजार किया जा रहा है. आईएएनएस से बात करते हुए सूत्र ने बताया, "बीसीसीआई 25 सितंबर से 1 नवंबर के बीच की विंडो पर काम कर रही है, लेकिन ये तब ही संभव है अगर देश में कोरोना के मामलों में कमी आए और सरकार की ओर से इजाजत मिले." वहीं एक फ्रेंचाइजी से जुड़े अधिकारी ने बताया कि बोर्ड ने सभी फ्रेंचाइजी को इन तारीखों को ध्यान में रखते हुए अपनी तैयारी और योजना बनाने को कहा है. इस अधिकारी ने बताया कि फ्रेंचाइजी को भी मार्केटिंग और विज्ञापन समेत कई चीजों की तैयारी करनी होती है और उनमें महीने भर का वक्त लग सकता है. T20 वर्ल्ड कप पर फैसला जरूरी वहीं आईपीएल से जुड़े एक और अधिकारी ने कहा कि सिर्फ तारीखों को लेकर जानकारी दी गई है, लेकिन अभी वेन्यू और लॉजिस्टिक जैसे मुद्दों पर स्थिति साफ नहीं है. इस अधिकारी ने कहा कि अगर सितंबर में पहला मैच खेलना होगा, तो उसके लिए अगस्त से ही तैयारी शुरू करनी होंगी. हालांकि ये सब इतना आसान नहीं है. आईपीएल के आयोजन में सबसे बड़ी रुकावट है ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 वर्ल्ड कप. पुरुषों का टी20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक खेला जाना है और अभी उसके स्थगित या रद्द होने पर कोई फैसला नहीं हुआ है. मानसून के बाद संभावनाः जौहरी दूसरी ओर बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने संकेत दिया है कि देश मानसून सीजन के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों को शामिल कर आईपीएल हो सकता है. बुधवार को एक वेबिनार में हिस्सा लेते हुए उन्होंने कहा, "आईपीएल का फ्लेवर ही ये है कि यहां दुनिया के सबसे बेहतरीन क्रिकेटर खेलते हैं और हम सब इसको बरकरार रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं. लेकिन ये एक वक्त पर एक कदम जैसा होगा." उन्होंने कहा कि चौथे चरण के लॉकडाउन खत्म होने के बाद मानसून शुरू होगा और उसके बाद ही क्रिकेट शुरू हो पाएगा. सरकारी दिशा-निर्देशों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, "आपको प्रैक्टिस से पहले खिलाड़ियों के 14 दिन के क्वारंटीन के बारे में भी सोचना है. ऐसे में कई चीजें हैं, लेकिन हमें उम्मीद है कि मानसून के बाद हालात सुधरेंगे और फिर हम इस दिशा में आगे बढ़ेंगे." आईपीएल के 13वें सीजन का आयोजन 29 मार्च से मुंबई में होना था, लेकिन मार्च की शुरुआत में देश में कोरोना के मामले बढ़ने के कारण बीसीसीआई ने इसे 15 अप्रैल तक टाल दिया था. इस बीच देश में पहले दौर का लॉकडाउन भी खत्म हुआ और दूसरे दौर का लॉकडाउन शुरू हुआ जिसके बाद बोर्ड ने इसे अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया.