1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. बीसीसीआइ ने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम को चुना ट्रेनिंग सेंटर, एम.एस धोनी नहीं होंगे शामिल

बीसीसीआइ ने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम को चुना ट्रेनिंग सेंटर, एम.एस धोनी नहीं होंगे शामिल

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना महामारी ने दुनिया भर में हाहाकार मचा रखा है। इसके चलते भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी मार्च से मैदान पर नहीं उतरे हैं। ऐसे में क्रिकेट प्रतियोगिताएं बंद कर दी गई थीं, लेकिन अब फिर से क्रिकेट की बहाली हो गई है। ऐसे में बीसीसीआइ अपने खिलाड़ियों की ट्रेनिंग शुरू करने के लिए योजना बना रही है। बीसीसीआइ ने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम को चुना है।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड अपने अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में ट्रेनिंग कैंप आयोजित करना चाहता है। ये स्टेडियम भारत के गुजरात शहर के अहमदाबाद के मोटेरा में बना है, जिसका नाम सरदार वल्लभ भाई पटेल स्टेडियम है। इस स्टेडियम की दर्शक क्षमता 1 लाख 10 हजार है। इतना ही नहीं, इस स्टेडियम में चार ड्रेसिंग रूम हैं और दर्जनों कमरों वाला क्लब हाउस भी सामिल है।

जैसा कि आपको बता दें कि पिछले शुक्रवार को बीसीसीआई की एपेक्स काउंसिल की मीटिंग हुई थी, जिसमें ट्रेनिंग कैंप के लिए कई क्रिकेट स्थलों के बारे में विचार किया गया था, जिनमें बेंगलुरु स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी भी शामिल थी। अंतत: मोटेरा स्टेडियम में एक आम सहमति बन गई, जो अपने अत्याधुनिक प्रशिक्षण सुविधाओं के साथ-साथ आलीशान आवास केंद्र से सुसज्जित है। हालांकि, इस स्टेडियम में कब से ट्रेनिंग कैंप शुरू होगा, इस पर जल्द फैसला लिया जाएगा।

वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के जरिए हुई एपेक्स काउंसिल की मीटिंग को अटेंड करने वाले एक अधिकारी ने न्यूज एजेंसी एएनआइ को बताया है, “हम बेंगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में नहीं जा सकते, क्योंकि शहर कोविद -19 मामलों में उछाल देख रहा है। इसलिए अहमदाबाद सुविधाओं के साथ-साथ एक ऐसी जगह है जहां हम जैव-सुरक्षित वातावरण में प्रशिक्षण शिविर आयोजित कर सकते हैं।” आइपीएल और किसी द्विपक्षीय सीरीज से पहले खिलाड़ियों को ट्रेनिंग की जरूरत है।

आपको बता दें, अगस्त में इस ट्रेनिंग कैंप के शुरू किया जा सकता है, लेकिन महेंद्र सिंह धौनी समेत कई दिग्गज खिलाड़ी इस कैंप में शामिल नहीं होंगे, क्योंकि धौनी मौजूदा समय में बीसीसीआइ के सालाना अनुबंधित खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल नहीं हैं। बीसीसीआइ सिर्फ उन्हीं खिलाड़ियों के लिए ट्रेनिंग कैंप का आयोजन करेगी, जो स्कीम ऑफ थिंग्स का हिस्सा हैं और जिन्होंने 2019-20 के सीजन के लिए कॉन्ट्रैक्ट थमाया गया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...