1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. बीसीसीआई ने ड्रीम11 की सशर्त तीन साल की बोली को किया नामंजूर, जानिए क्या है वजह

बीसीसीआई ने ड्रीम11 की सशर्त तीन साल की बोली को किया नामंजूर, जानिए क्या है वजह

By सोने लाल 
Updated Date

नई दिल्ली। आईपीएल के टाइटल प्रायोजक को लेकर काफी दिनों से कई कंपनियां रेस लगा रही थी। लेकिन ड्रीम11 ने इस साल 19 सितंबर से शुरू होने वाले इंडियन प्रमियर लीग की बाजी मार ली वह इसका टाइटल प्रायोजक होगा, लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने उसकी सशर्त तीन साल की बोली नामंजूर कर दी है। उसने वर्ष 2021 और 2022 के लिए कम बोली लगाई थी। ड्रीम11 ने शिक्षा तकनीक से जुड़ी कंपनियां बायजू और अनएकडेमी को पीछे छोड़कर कुल 222 करोड़ रुपये में चार महीने 13 दिनों के लिए प्रायोजन अधिकार हासिल किए। वह चीनी मोबाइल फोन कंपनी VIVO का स्थान लेगा।

बीसीसीआई ने आईपीएल चेयरमैन बृजेश पटेल के मंगलवार को दिए गए बयान की पुष्टि करते हुए बुधवार को जारी विज्ञप्ति में कहा कि आईपीएल संचालन परिषद ने ड्रीम11 को इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के लिए नया टाइटल प्रायोजक घोषित किया है। ड्रीम11 (स्पोर्टो टेक्नोलोजी प्रा. लि.) एक मुंबई, महाराष्ट्र स्थित भारतीय कंपनी है। ड्रीम11 ने VIVO के प्रत्येक साल 440 करोड़ रुपये के करार पर वापसी नहीं करने की स्थिति में 2021 और 2022 में प्रत्येक साल 240 करोड़ रुपये का भुगतान करना करने की पेशकश की है। VIVO को सीमा पर भारत-चीन तनाव के कारण प्रायोजन से हटना पड़ा था।

मीडिया सूत्रों के मुूताबिक, बीसीसीआई और ड्रीम इलेवन तीन साल के सशर्त करार पर बातचीत की और बोर्ड ने कंपनी से अगले दो सत्र के लिए राशि में बढ़ोतरी करने के लिए कहा।बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई से कहा कि ड्रीम11 की बोली सबसे अधिक है, लेकिन बीसीसीआई उसे 240 करोड़ रुपये में क्यों अधिकार सौंपे, जबकि हम अगले दो वर्षों में कोविड-19 की स्थिति में सुधार की उम्मीद कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि VIVO के साथ हमारा करार अब भी कायम है। हमने इसे खत्म नहीं किया है, यह बस रुका है। अगर हमें 440 करोड़ रुपये मिल रहे हैं तो हम 240 करोड़ रुपये क्यों लें।ड्रीम11 का खेलों के साथ जुड़ाव पिछले कुछ वर्षों में बढ़ा है तथा अभी वह कुल 19 लीगों से जुड़ा है, जबकि इंडियन प्रीमियर लीग की छह फ्रेंचाइजी के साथ भी उसका करार है।

आईपीएल चेयरमैन पटेल ने बीसीसीआई की विज्ञप्ति में कहा कि हम ड्रीम11 का आईपीएल 2020 के टाइटल प्रायोजक के रूप में स्वागत करते हैं। ड्रीम11 का आधिकारिक भागीदार से टाइटल प्रायोजक बनना ब्रांड आईपीएल के लिए शानदार है। उन्होंने कहा कि एक डिजिटल ब्रांड के तौर पर इससे उन्हें घर में बैठकर मैच देख रहे प्रशंसकों से ऑनलाइन जुड़ने का शानदार मौका मिलेगा।

ड्रीम स्पोर्ट्स के सीईओ और सह संस्थापक हर्ष जैन ने कहा कि भारतीयों द्वारा विशेष रूप से भारतीय खेल प्रेमियों के लिए भारत में बनाए गए भारतीय ब्रांड के तौर पर हम आईपीएल टाइटल प्रायोजक बनने का मौका देने के लिए बीसीसीआई का आभार व्यक्त करते हैं। अगर VIVO वापसी नहीं करता तो पूरी संभावना है कि बीसीसीआई 2021 और 2022 के लिए नए सिरे से बोली लगवाएगा क्योंकि दुनिया का सबसे धनी बोर्ड 400 करोड़ रुपये से कम पर तैयार नहीं होगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...