क्रिकेट वेस्टइंडीज को BCCI के 5 लाख डॉलर दान का दुरूपयोग हुआ : होल्डिंग

wi
क्रिकेट वेस्टइंडीज को BCCI के 5 लाख डॉलर दान का दुरूपयोग हुआ : होल्डिंग

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यूआई) पर पांच लाख डॉलर के फंड का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। सीडब्ल्यूआई को यह फंड भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने पूर्व खिलाड़ियों की मदद के लिए 2013-14 में दिया था। होल्डिंग ने यूट्यूब पर ‘माइकी-होल्डिंग नथिंग बैक’ कार्यक्रम में एक इंटरव्यू में यह बात कही। उन्होंने इस दौरान सीडब्ल्यूआई के 60 पेजों का आडिट रिपोर्ट भी पढ़ा। पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि बीसीसीआई ने अतीत में सीडब्ल्यूआई को दान दिया था, लेकिन यह पैसा खिलाड़ियों तक नहीं पहुंचा।

Bccis 5 Lakh Donation To Cricket West Indies Misused Holding :

‘बहुत से पूर्व खिलाड़ियों को इसके बारे में नहीं पता’

होल्डिंग ने कहा कि 2014 में, बीसीसीआई ने पूर्व खिलाड़ियों की मदद करने के लिए विंडीज क्रिकेट बोर्ड को पांच लाख डॉलर का दान दिया था। यह बीसीसीआई द्वारा एक दान था। मैं भी एक पूर्व खिलाड़ी हूं और मैं यह नहीं कह रहा हूं कि मुझे ये पैसा चाहिए। उन्होंने कहा कि लेकिन मैं बहुत से ऐसे पूर्व खिलाड़ियों को जानता हूं जिन्होंने इस आधे करोड़ डॉलर में से एक प्रतिशत के बारे में भी नहीं सुना है। मुझे पूरा यकीन है कि अगर उन्हें इसके बारे में पता चल जाता वे इसे एक बड़ा हवा बना देते। वह पांच लाख डॉलर कहां है?।  

‘विंडीज क्रिकेट को एक प्रायोजक से 1,34,0200 अमेरिकी डॉलर की रकम मिली’

होल्डिंग ने कहा कि वह अपने अगले शो में इसके बारे में दर्शकों को बताएंगे। रिपोर्ट के अनुसार, 8 अगस्त 2018 को, विंडीज क्रिकेट को एक प्रायोजक से 1,34,0200 अमेरिकी डॉलर की धनराशि मिली। होल्डिंग ने फंड की वैधता निर्धारित करने के लिए इसके बारे में किए गए काम पर सवाल किया। यह पूछे जाने पर कि क्या वह बोर्ड पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा रहे, होल्डिंग ने स्पष्ट करते हुए कहा कि मैं उन पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप नहीं लगा रहा हूं, न ही ऑडिटर पर। लेकिन मुझे लगता है कि कोई विशेष लेनदेन बोर्ड के ऊपर नहीं होनी चाहिए।  

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यूआई) पर पांच लाख डॉलर के फंड का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। सीडब्ल्यूआई को यह फंड भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने पूर्व खिलाड़ियों की मदद के लिए 2013-14 में दिया था। होल्डिंग ने यूट्यूब पर 'माइकी-होल्डिंग नथिंग बैक' कार्यक्रम में एक इंटरव्यू में यह बात कही। उन्होंने इस दौरान सीडब्ल्यूआई के 60 पेजों का आडिट रिपोर्ट भी पढ़ा। पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि बीसीसीआई ने अतीत में सीडब्ल्यूआई को दान दिया था, लेकिन यह पैसा खिलाड़ियों तक नहीं पहुंचा। 'बहुत से पूर्व खिलाड़ियों को इसके बारे में नहीं पता' होल्डिंग ने कहा कि 2014 में, बीसीसीआई ने पूर्व खिलाड़ियों की मदद करने के लिए विंडीज क्रिकेट बोर्ड को पांच लाख डॉलर का दान दिया था। यह बीसीसीआई द्वारा एक दान था। मैं भी एक पूर्व खिलाड़ी हूं और मैं यह नहीं कह रहा हूं कि मुझे ये पैसा चाहिए। उन्होंने कहा कि लेकिन मैं बहुत से ऐसे पूर्व खिलाड़ियों को जानता हूं जिन्होंने इस आधे करोड़ डॉलर में से एक प्रतिशत के बारे में भी नहीं सुना है। मुझे पूरा यकीन है कि अगर उन्हें इसके बारे में पता चल जाता वे इसे एक बड़ा हवा बना देते। वह पांच लाख डॉलर कहां है?।   'विंडीज क्रिकेट को एक प्रायोजक से 1,34,0200 अमेरिकी डॉलर की रकम मिली' होल्डिंग ने कहा कि वह अपने अगले शो में इसके बारे में दर्शकों को बताएंगे। रिपोर्ट के अनुसार, 8 अगस्त 2018 को, विंडीज क्रिकेट को एक प्रायोजक से 1,34,0200 अमेरिकी डॉलर की धनराशि मिली। होल्डिंग ने फंड की वैधता निर्धारित करने के लिए इसके बारे में किए गए काम पर सवाल किया। यह पूछे जाने पर कि क्या वह बोर्ड पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा रहे, होल्डिंग ने स्पष्ट करते हुए कहा कि मैं उन पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप नहीं लगा रहा हूं, न ही ऑडिटर पर। लेकिन मुझे लगता है कि कोई विशेष लेनदेन बोर्ड के ऊपर नहीं होनी चाहिए।