पाउडर के नाम पर कैंसर बेंच रहा जॉनसन एंड जॉनसन, अपने बच्चे की सेहत से न करें खिलवाड़

Johnson & Johnson
कैंसर बेंच रहा जॉनसन एंड जॉनसन, अपने बच्चे की सेहत से न करें खिलवाड़

Be Aware About Johnson Johnson Powder It May Cause Causes Cancer To Your Infant In Future

जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी नवजात बच्चों की देखभाल के लिए विश्वसनीय कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स तैयार करने के लिए अपनी वैश्विक पहचान रखती है। अधिकांश मां बाप अपने नवजात बच्चों की पर​वरिश के लिए इसी कंपनी के तेल, साबुन, शैम्पू और मॉश्चराइजर आंख बंद कर खरीदते हैं। लेकिन इस खबर को पढ़ने के बाद आप जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्ट्स को खरीदने से पहले एकबार सोचेंगे जरूर।

टीवी विज्ञापनों के माध्यम से नवजात बच्चों के लिए बनाए जाने वाले आने बॉडी केयर प्रोडक्ट को 100 प्रतिशत सुरक्षित होने का दावा करने वाली कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन की विश्वसनीयता पर अमेरिकी अदालत ने बड़ा सवालिया निशान खड़ा किया है। गर्भाशय के कैंसर से जूझ रही एक महिला द्वारा जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ ठोंके गए दावे को अदालत ने सही करार देते हुए कंपनी पर मोटा हर्जाना भरने का फैसला सुनाया है। अदालत ने जॉनसन एंड जॉनसन को ग्राहकों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने का दोषी करार दिया है।

ओवरी कैंसर से ग्रस्त 63 वर्षीया इवा इकेवेरिया नामक महिला ने अदालत में जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ दाखिल की गई अपनी याचिका में कहा था कि वह 10 वर्ष की उम्र से जॉनसन एंड जॉनसन टेल्कम (जिसे भारत में पाउडर कहते हैं) का प्रयोग करती आ रही है। कंपनी के धोखें की वजह से वह इस कंपनी का पाउडर प्रयोग करती रही और परिणामस्वरूप वह कैंसर का शिकार हो गई। पीड़िता का कहना है कि कंपनी को मालूम था कि उसके इस उत्पाद से कैंसर होने का खतरा रहता है। लेकिन कंपनी इस तथ्य को अपने ग्राहकों से न सिर्फ छुपाती आई है बल्कि उनके सुरक्षित होने का प्रचार अपने विज्ञापनों के माध्यम से करती आई है।

इवा की याचिका पर सुनवाई कर रही अमेरिकी अदालत ने उस रिसर्च को नजीर बनाया जिसमें इस बात का दावा किया गया है कि गुप्तांगों पर अभ्रक का प्रयोग करने से गर्भाशय के कैंसर हो सकता है। अदालत ने माना है कि जॉनसन एंड जॉनसन के टेल्कम में अभ्रक मौजूद है जिसे इवा के कैंसर की वजह माना जा सकता है। चूंकि कंपनी ने अपने प्रोडक्ट को बेंचने के लिए इस तथ्य को चेतावनी के रूप में नहीं बताया, इसलिए कंपनी इस मामले में दोषी करार दिया जाता है। अदालत ने इवा के पक्ष में फैसला सुनाते हुए जॉनसन एंड जॉनसन पर 417 मिलियन अमेरिकी डॉलर का हर्जाना पीड़िता को चुकाने का फैसला सुनाया है।

आपको बता दें कि ​यह पहला मामला नहीं है जब अमेरिका की किसी अदालत ने जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ इस तरह का फैसला दिया हो। इस मामले से पहले भी जॉनसन एंड जॉनसन पर अमेरिका में तीन बार जुर्माना लग चुका है।

जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी नवजात बच्चों की देखभाल के लिए विश्वसनीय कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स तैयार करने के लिए अपनी वैश्विक पहचान रखती है। अधिकांश मां बाप अपने नवजात बच्चों की पर​वरिश के लिए इसी कंपनी के तेल, साबुन, शैम्पू और मॉश्चराइजर आंख बंद कर खरीदते हैं। लेकिन इस खबर को पढ़ने के बाद आप जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्ट्स को खरीदने से पहले एकबार सोचेंगे जरूर। टीवी विज्ञापनों के माध्यम से नवजात बच्चों के लिए बनाए जाने वाले आने बॉडी केयर…