कार में चार्ज करते हैं मोबाइल तो ध्यान रखें ये बातें

Car mobile charger
कार में चार्ज करते हैं मोबाइल तो ध्यान रखें ये बातें
अगर आप स्मार्टफोन यूजर हैं तो निश्चित ही आप अपने फोन की बैट्री को लेकर बेहद सजग रहते होंगे। जहां मौका मिलता आप वहीं अपने फोन की बैट्री चार्ज कर डालते हैं। घर हो आॅफिस हो या फिर कार आपका मोबाइल चार्जर पर लगा ही रहता है। शायद बैट्री के खत्म होने की परेशानी से बचने के लिए हमने इसे अपनी आदत बना लिया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी यह आदत आपके फोन की सेहत के लिए…

अगर आप स्मार्टफोन यूजर हैं तो निश्चित ही आप अपने फोन की बैट्री को लेकर बेहद सजग रहते होंगे। जहां मौका मिलता आप वहीं अपने फोन की बैट्री चार्ज कर डालते हैं। घर हो आॅफिस हो या फिर कार आपका मोबाइल चार्जर पर लगा ही रहता है। शायद बैट्री के खत्म होने की परेशानी से बचने के लिए हमने इसे अपनी आदत बना लिया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी यह आदत आपके फोन की सेहत के लिए अच्छी नहीं है।

अगर आप नियमित तौर पर कार में मोबाइल चार्ज करते हैं तो आपको कुछ बातें ध्यान रखने की जरूरत है।

{ यह भी पढ़ें:- स्मार्टफोन से तुरंत डिलीट करें ये फोल्डर, फोन की स्पीड हो जाएगी तेज़ }

1— कार में हमेशा अच्छी कंपनी का और आपके मोबाइल को सपोर्ट करने वाला ब्रांडेड चार्जर ही प्रयोग करें।
2— कार में मोबाइल को चार्ज करते समय मोबाइल को यूज करने से बचें।
3— चार्जिगं के समय मोबाइल को कार के म्यूजिक प्लेयर से कनेक्ट न रखें।
4— बैट्री पर्याप्त होने पर कार में मोबाइल को चार्ज करने से बचें।
5— मोबाइल जीपीएस का यूज करते समय मोबाइल को चार्जिंग पर न रखें।

क्या होता है नुकसान —

{ यह भी पढ़ें:- अगर आप भी करते हैं अंधेरे में स्मार्टफोन का इस्तेमाल, हो सकती है ये समस्या }

1— खराब क्वालिटी के कार चार्ज के चार्जिंग पिन घटिया होते हैं ये अक्सर आपे मंहगे मोबाइल के चार्जिंग प्वाइंट को खराब कर देते हैं और बेहतर चार्जिंग भी नहीं देते हैं।
2— कार में चार्जिंग के साथ ही मोबाइल को यूज करने से आपका फोन गरम होता है। चार्जिंग पॉवर कम होने की वजह से मोबाइल चार्ज भी नहीं होता इसलिए इसका असर मोबाइल की बैट्री पर पड़ता है। बैट्री जल्दी खराब होने की संभावना रहती है।

हमारी सलाह —

कार में मोबाइल चार्ज करने का मतलब ये नहीं है कि आप घर में मोबाइल जार्च करना छोड़ देंगे। मोबाइल को थोड़ा—थोड़ा चार्ज करना बेहतर रहता है। आप अपनी जरूरत के हिसाब से अपनी मोबाइल की चार्जिंग का समय निश्चित कर सकते हैं। जैसे जब आप बाथरूम में हैं तो अपने मोबाइल को चार्जिंग पर लगा सकते हैं। जब आप खाने की मेज पर हैं तो आप मोबाइल को चार्जिंग के लिए छोड़ सकते हैं। सुबह जागने के बाद फ्रेश होने और तैयार होते समय आप अपना मोबाइल चार्जिंग के लिए लगा सकते हैं। इसके बाद भी अगर जरूरत पड़े तो कार तो है ही।

{ यह भी पढ़ें:- Vivo ने लांच किया सबसे बढ़िया सेल्फी स्मार्टफोन, कीमत महज... }

Loading...