चाइनीज फूड के साथ मिलने वाली चटनी से रहें सावधान, हो सकते हैं गंभीर परिणाम

chowmin khane se fata bacche ka fefda
चाइनीज फूड के साथ मिलने वाली चटनी से रहें सावधान, हो सकते हैं गंभीर परिणाम

नई दिल्ली। अगर आप भी चाउमीन या कोई भी चाइनीज़ फूड खाने के शौकीन हैं तो ज़रा संभलकर रहें। चाइनीज़ खानों के साथ मिलने वाली चटनी खाने से आपके फेफड़े या दिल को काफी नुकसान हो सकता है। दरअसल, हरियाणा के यमुनानगर में सड़क किनारे रेहड़ी पर चाउमीन की चटनी खाने से एक बच्चे के साथ कुछ ऐसा हुआ जिसे जानकार आप हैरान रह जाएंगे।

Be Careful With The Chutney That Comes With Chinese Food Maybe You Have Something Similar :

यमुना नगर में रहने वाले शख्स मंजूर जब अपने बेटे उस्मान को चाउमीन खिलाने के लिए ले गए थे तो अचानक ही उस्मान नूडल्स खाते-खाते चटनी पी गया। थोड़ी देर बाद उस्मान की सेहत बिगड़ने लगी तब उसे डॉक्टर के पास ले जाया गया। वहां डाक्टर ने बताया कि चटनी में एसिटिक ऐसिड मौजूद था जिसकी वजह से उसका शरीर जल गया।

इस हादसे को लेकर डाक्टर का कहना था कि ‘जब बच्चे को अस्पताल लाया गया तो उसकी सेहत इतनी खराब थी कि उसका शरीर काला पड़ गया था और उसका ब्लड प्रेशर डाउन हो गया था। यहां तक कि उसकी नब्ज भी नहीं मिल रही थी। हमने जब उसका एक्सरे किया तो हम ये देख कर दंग रह गए कि बच्चे के फेफड़े फट चुके थे।’

डाक्टर ने आगे बताया कि ये पहला ऐसा केस है जिसमें चाउमीन की चटनी खाने से फेफड़े फट गए। चटनी में एसिटिक ऐसिड होने के कारण उस्मान के ऑर्गन अंदर से जल चुके थे। यहां तक कि तीन बार उसके हार्ट ने काम करना बंद कर दिया था। वक्त पर अस्पताल लाने की वजह से हमने उसका ऑपरेशन कर उसके शरीर में चेस्ट ट्यूबें डालीं जिससे अभी उसकी हालत में सुधार है।

नई दिल्ली। अगर आप भी चाउमीन या कोई भी चाइनीज़ फूड खाने के शौकीन हैं तो ज़रा संभलकर रहें। चाइनीज़ खानों के साथ मिलने वाली चटनी खाने से आपके फेफड़े या दिल को काफी नुकसान हो सकता है। दरअसल, हरियाणा के यमुनानगर में सड़क किनारे रेहड़ी पर चाउमीन की चटनी खाने से एक बच्चे के साथ कुछ ऐसा हुआ जिसे जानकार आप हैरान रह जाएंगे। यमुना नगर में रहने वाले शख्स मंजूर जब अपने बेटे उस्मान को चाउमीन खिलाने के लिए ले गए थे तो अचानक ही उस्मान नूडल्स खाते-खाते चटनी पी गया। थोड़ी देर बाद उस्मान की सेहत बिगड़ने लगी तब उसे डॉक्टर के पास ले जाया गया। वहां डाक्टर ने बताया कि चटनी में एसिटिक ऐसिड मौजूद था जिसकी वजह से उसका शरीर जल गया। इस हादसे को लेकर डाक्टर का कहना था कि 'जब बच्चे को अस्पताल लाया गया तो उसकी सेहत इतनी खराब थी कि उसका शरीर काला पड़ गया था और उसका ब्लड प्रेशर डाउन हो गया था। यहां तक कि उसकी नब्ज भी नहीं मिल रही थी। हमने जब उसका एक्सरे किया तो हम ये देख कर दंग रह गए कि बच्चे के फेफड़े फट चुके थे।' डाक्टर ने आगे बताया कि ये पहला ऐसा केस है जिसमें चाउमीन की चटनी खाने से फेफड़े फट गए। चटनी में एसिटिक ऐसिड होने के कारण उस्मान के ऑर्गन अंदर से जल चुके थे। यहां तक कि तीन बार उसके हार्ट ने काम करना बंद कर दिया था। वक्त पर अस्पताल लाने की वजह से हमने उसका ऑपरेशन कर उसके शरीर में चेस्ट ट्यूबें डालीं जिससे अभी उसकी हालत में सुधार है।