बीफ पॉलिटिक्स का खेल बंद करे कांग्रेस: अरुण जेटली

GST सही या गलत गुजरात चुनाव के नतीजे बताएंगे: अरुण जेटली

नई दिल्ली। देश की हालिया राजनीति गाय के इर्द-गिर्द ही घूमती नज़र आ रही है। तमाम प्रयासों के बावजूद देश के किसी न किसी कोने से गाय से जुड़ी कोई अप्रिय घटना की खबर आ ही जा रही हैं जिसमे गौ रक्षा के नाम पर इंसानियत का खून किया जा रहा है। इसी बात पर आज राज्य सभा में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने चिंता जाहिर करते हुए अपनी बात रखी। मॉब लिंचिंग और गोरक्षा के मुद्दे पर बोलते हुए अरुण जेटली ने कहा कि किसी को भी कानून हाथ में लेने का हक नहीं है। अगर ऐसा कोई करता है तो उसकी निंदा के साथ गिरफ्तारी भी होनी चाहिए।

अरुण जेटली ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ‘बीफ पॉलिटिक्स’ खेल रही है। उन्होंने कहा कि लिंचिंग की घटनाओं का राजनीतिकरण बंद होना चाहिए।
अरुण जेटली ने कहा कि अगर किसी राज्य में गोहत्या पर प्रतिबंध है और वहां ऐसी गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाता है, तो वो गलत है। इस दौरान अरुण जेटली ने कुछ घटनाओं से पूरी दुनिया में भारत की छवि बिगड़ने का भी जिक्र किया। जेटली ने बताया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले जुलूस निकाले गए कि चर्च पर अटैक हो रहे हैं। जिसका दुनिया के अंदर प्रचार हो गया कि भारत में चर्च पर अटैक किए जा रहे हैं। अरुण जेटली ने कहा कि कुछ घटनाओं पर ऐसा रिएक्ट नहीं करना चाहिए।

{ यह भी पढ़ें:- करोड़ों का माल खाकर लाल हुए हैं पीएम मोदी इसीलिए दिखते है गोरे और जवां: अल्पेश }

गोरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी के खिलाफ सरकार

सदन में वित्त मंत्री ने बताया कि गोरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी करने वालों के खिलाफ खुद प्रधानमंत्री और गृहमंत्री सख्त लहजे में चेतावनी दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि गोरक्षा के नाम पर किसी को कानून के साथ खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। दलित पर जो अत्याचार हो रहे हैं, ऐसे मामलों में कार्रवाई के लिए पर्याप्त कानून हैं। उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. सरकार इसके लिए पूरे तरीके से प्रतिबद्ध है।

{ यह भी पढ़ें:- #CongressPresidentRahulGandhi: राहुल के लिए चुनौतियों की फेहरिस्त है लंबी }

Loading...