1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. दुर्गा पूजा से पहले सामने आई हिजाब पहने माता की तस्वीर, लोगो ने पूछा अभिव्यक्ति के नाम पर ये कब तक चलेगा

दुर्गा पूजा से पहले सामने आई हिजाब पहने माता की तस्वीर, लोगो ने पूछा अभिव्यक्ति के नाम पर ये कब तक चलेगा

दुर्गा पूजा भारत के बंगाल राज्य में बहुत धूम धाम से मनाई जाती है। तरह तरह के पंडाल और कलाकृतियां इस त्योंहार की पहचान हैं। इन्हें देखने देश विदेश से तमाम लोग भारत के बंगाल राज्य में आते हैं। अगले महीने दशहरा का त्योहार मनाया जाना है। इस दौरान कोलकाता के ‘कलाकार’ सनातन डिंडा ने अपनी एक पेंटिंग में माँ दुर्गा को हिजाब में दिखाते हुए लिखा कि; 'माँ आसछेन' अर्थात माँ आ रही हैं।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

पश्चिम बंगाल। दुर्गा पूजा भारत के बंगाल राज्य में बहुत धूम धाम से मनाई जाती है। तरह तरह के पंडाल और कलाकृतियां इस त्योंहार की पहचान हैं। इन्हें देखने देश विदेश से तमाम लोग भारत के बंगाल राज्य में आते हैं। अगले महीने दशहरा का त्योहार मनाया जाना है। इस दौरान कोलकाता के ‘कलाकार’ सनातन डिंडा ने अपनी एक पेंटिंग में माँ दुर्गा को हिजाब में दिखाते हुए लिखा कि; ‘माँ आसछेन’ अर्थात माँ आ रही हैं। बांगला में इस वाक्य का उपयोग दुर्गा पूजा से पहले किया जाता है, यह बताने के लिए कि माँ दुर्गा अपने परिवार के साथ आ रहीं हैं।

पढ़ें :- रिटर्निंग ऑफिसर ने बीजेपी प्रत्याशी Priyanka Tibrewal को भेजा नोटिस, शाम 5 बजे तक दाखिल करना है जवाब
Jai Ho India App Panchang

कलाकार, बुद्धिजीवी और उनके समर्थक इस पेंटिंग की कला का हवाला देकर भले ही तारीफ करें, किन्तु वास्तविकता यही है कि आम हिंदू के लिए यह उसकी भक्ति, आस्था और सहिष्णुता का मजाक है और वह इसे ऐसे ही देखने के लिए विवश है, क्योंकि अगर वह विरोध प्रकट करता है, तो सांप्रदायिक कहा जा सकता है। बुद्धिजीवी और कलाकार अपने लिए भगवान से ऐसी आँखें माँग लाए हैं, जो आम हिंदुओं की आँखों से अलग हैं और यही वजह है कि अभिव्यक्ति की आज़ादी और हिंदुओं की सहिष्णुता की सीमाएँ आए दिन एक-दूसरे को आजमाती रहती हैं।

 

पढ़ें :- भवानीपुर उपचुनाव: ममता बनर्जी के खिलाफ बीजेपी की साइड से जानें आज कौन भरेगा पर्चा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...