PM मोदी की रैली के पास ‘मोदी पकौड़ा’ बेच रहे थे छात्र, उठाकर ले गई पुलिस

pakoda
PM मोदी की रैली के पास ‘मोदी पकौड़ा’ बेच रहे थे छात्र, उठाकर ले गई पुलिस

नई दिल्ली। चंडीगढ़ में पुलिस ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रैली स्थल के नजदीक ‘मोदी पकौड़ा’ बेच रहे करीब 12 स्टूडेंट को हिरासत में ले लिया। हालांकि रैली खत्म होने के बाद इन सभी छात्रों को छोड़ दिया गया। ये छात्र अपनी डिग्री इंजीनियरिंग, बीए और एलएलबी के नाम वाले पकौड़े बेच रहे थे। कल पीएम मोदी बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे।

Before Pm Modi Chandigarh Rally Pakoda Sellers Students Detained :

सभी 12 स्टूडेंट, बीजेपी प्रत्याशी किरण खेर के समर्थन में पीएम मोदी की एक रैली के स्थान के नजदीक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अपनी डिग्री इंजीनियरिंग, बीए और एलएलबी के नाम वाले पकौड़े बेच रहे थे। किरण खेर, कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व केन्द्रीय मंत्री पवन कुमार बंसल के खिलाफ चंडीगढ़ सीट से मैदान में हैं। यहां 19 मई को मतदान होना है।

पकौड़ा भेज रहे स्टूडेंट्स ने कहा कि हम यहां पकौड़ा योजना के तहत हमें नये रोजगार देने के लिए मोदीजी का स्वागत करने के लिए आए हैं। हम मोदी रैली में पकौड़ा बेचना चाहते हैं ताकि, वह जान सकें कि शिक्षित युवा के लिए पकौड़ा बेचना कितना महान है।

बता दें, पिछले साल जनवरी में रोजगार के सवाल पर पीएम मोदी ने एक टेलीविजन इंटरव्यू में कहा था कि लोग पकौड़ा बेच कर एक दिन में 200 रूपया कमा रहे हैं उसे बेरोजगारी नहीं माना जा सकता।

नई दिल्ली। चंडीगढ़ में पुलिस ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रैली स्थल के नजदीक 'मोदी पकौड़ा' बेच रहे करीब 12 स्टूडेंट को हिरासत में ले लिया। हालांकि रैली खत्म होने के बाद इन सभी छात्रों को छोड़ दिया गया। ये छात्र अपनी डिग्री इंजीनियरिंग, बीए और एलएलबी के नाम वाले पकौड़े बेच रहे थे। कल पीएम मोदी बीजेपी उम्मीदवार किरण खेर के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे। सभी 12 स्टूडेंट, बीजेपी प्रत्याशी किरण खेर के समर्थन में पीएम मोदी की एक रैली के स्थान के नजदीक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अपनी डिग्री इंजीनियरिंग, बीए और एलएलबी के नाम वाले पकौड़े बेच रहे थे। किरण खेर, कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व केन्द्रीय मंत्री पवन कुमार बंसल के खिलाफ चंडीगढ़ सीट से मैदान में हैं। यहां 19 मई को मतदान होना है। पकौड़ा भेज रहे स्टूडेंट्स ने कहा कि हम यहां पकौड़ा योजना के तहत हमें नये रोजगार देने के लिए मोदीजी का स्वागत करने के लिए आए हैं। हम मोदी रैली में पकौड़ा बेचना चाहते हैं ताकि, वह जान सकें कि शिक्षित युवा के लिए पकौड़ा बेचना कितना महान है। बता दें, पिछले साल जनवरी में रोजगार के सवाल पर पीएम मोदी ने एक टेलीविजन इंटरव्यू में कहा था कि लोग पकौड़ा बेच कर एक दिन में 200 रूपया कमा रहे हैं उसे बेरोजगारी नहीं माना जा सकता।