जानिए पुदीने की चाय के फायदे

नई दिल्ली: स्वाद और सुगंध से भरपूर पुदीना लगभग हर किसी को पसंद होता है। इसमें केवल स्वाद और सुगंध ही नहीं बल्कि इसके अलावा भी लाभकारी गुण हैं। पुदीना हाजमें के लिए काफी अच्छा होता है इसके सेवन से पाचन क्रिया दुरुस्त रहता है। पुदीना एंटीबायोटिक की तरह काम करता है ये बात तो लगभग हम सभी को पता है लेकिन क्या आपको पता है कि पुदीने की पत्ती को संजीवनी बूटी का दर्जा मिला है।

आज पुदीने की खूबियों को दुनिया भर के लोग जानने लगे हैं जिसकी वजह से आज पुदीने का इस्तेमाल चाय में भी होने लगा है, इसकी चाय में कैफीन नहीं होता है। जिसकी वजह से यह बहुत सी बिमारियों से लड़ने में सहायक होता है| जैसे बुखार उल्टी, दस्त और मिचली। पुदीने के पौधे की आयु बहुत कम होती है, और पुदीने का अर्क दवा के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है|

जानिए पुदीने की चाय के फायदे

1. पुदीना हमारे पाचन तंत्र को स्वस्थ बनता है, यह पेट में बनाने वाली गैस और दर्द को भी खत्म करता है। साथ ही पाचन क्रिया को सुधरता है और भोजन को पचाने में भी मदद करता है।
2. जी मिचलाना और चक्कर की परेशानियों से राहत मिलती है| इसकी पत्तियां आपको ताजा रखती हैं और पेट कि परेशानियाँ जैसे पेट दर्द और दस्त से दूर रखती है।
3. पुदीना मुहांसों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है| इससे त्वचा को ठंडक मिलती है इसकी शीतलता, त्वचा में अत्यअधिक तेल को रोकता है और मुहासों से भी बचाता है।
4. यह चकत्ते, जलन, कीड़े के काटने, खुजली और त्वचा में सूजन जैसी त्वचा समस्याओं का इलाज करने में भी सहायक है।
5. इससे बालों की जड़ों में रक्त का प्रवाह अच्छा होता है और बालों को बढ़ने में मदद करता है। पुदीने की चाय में कुछ ऐसे भी गुण होते हैं जिससे बालों में चमक और वह घने हो जाते हैं।
6. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है।
7. कैंसरग्रस्त लोगों के लिये यह बहुत लाभदायक है।

ऐसे बनाये पुदीने की चाय

इसकी चाय बनाने के लिए पुदीने की ताजी पत्तियां लें। इन्हें धूप में सुखा कर कड़क कर लें और फिर हाथों से दबा कर चूरा करके डिब्बे में भर लें। एक बर्तन में पानी उबालें व इसमें दो चम्मच पुदीने की पत्तियां डालें। इसे छान कर थोड़ी मात्रा में शहद मिलाएं।

आस्था सिंह की रिपोर्ट