राजस्थान के राजसमंद में मारे गए श्रमिक के परिवार से मिलने पहुंचे बंगाल के मंत्री व नेता

murader

Bengal Minister And Leader Who Came To Meet The Family Of Workers Killed In Rajasthans Rajsamand

कोलकाता| राजस्थान के राजसमंद जिले में एक हैवान की क्रूरता का शिकार हुए बंगाल के मजदूर से शनिवार को पश्चिम बंगाल के कई मंत्रियों और नेता पहुंचे। जहां उन्होंने परिवार से मुलाकात की और अपनी संवेदनाएं जाहिर की। राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम, परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी और वरिष्ठ तृणमूल नेताओं सौगता रॉय और सुदीप बंदोपाध्याय ने पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में मृतक के परिवार से मुलाकात की और पार्टी की ओर से दो लाख रुपये का मुआवजा सौंपा।

हकीम ने कहा, “भारत में या बंगाल में इस तरह की क्रूरता और हिंसा अप्रत्याशित है। मैं इस तरह की हिंसक घटनाओं की कड़ी निंदा करता हूं। हमारी सरकार हर संभव तरीके से असहाय परिवार की मदद करेगी।” पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी ने शुक्रवार को इस हत्या की कड़ी निंदा की था। उन्होंने मुआवजे के रूप में तीन लाख रुपये देने और मृतक के एक संबंधी को सरकारी नौकरी देने की घोषणा भी की थी।

राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी और बंगाल के राज्य सभा सदस्य प्रदीप भट्टाचार्य ने भी पीड़ित परिवार से मुलाकात की। भट्टाचार्य ने सवालिया लहजे में कहा, “कभी-कभी काम की तलाश में लोगों को अलग-अलग जगहों पर जाना पड़ता है। यह सामान्य है, लेकिन लोगों के खिलाफ ऐसी हिंसा कैसे हो सकती है?”

गौरतलब है कि राजस्थान के राजसमंद जिले में एक स्थानीय शख्स ने मोहम्मद अफराजुल पर कुल्हाड़ी से हमला करने के बाद उसे जिंदा जला दिया था। इस भयावह हत्या के वीडियो को खुद हत्यारोपी ने जारी किया था। पुलिस ने गुरुवार को आरोपी शंभूलाल रैगर को गिरफ्तार कर लिया था।

कोलकाता| राजस्थान के राजसमंद जिले में एक हैवान की क्रूरता का शिकार हुए बंगाल के मजदूर से शनिवार को पश्चिम बंगाल के कई मंत्रियों और नेता पहुंचे। जहां उन्होंने परिवार से मुलाकात की और अपनी संवेदनाएं जाहिर की। राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम, परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी और वरिष्ठ तृणमूल नेताओं सौगता रॉय और सुदीप बंदोपाध्याय ने पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में मृतक के परिवार से मुलाकात की और पार्टी की ओर से दो लाख रुपये का…