कैमरे में कैद हुई मौत: लेते रहे सेल्फी, उधर डूब गया दोस्त

बेंगलुरू। स्कूल फ़्रेंड्स के साथ पिकनिक मानने गए एक छात्र की उस वक़्त मौत हों गयी जब उसका पूरा ग्रुप सेल्फी लेने में व्यस्त था। यह छात्र सेल्फी वाली ग्रुप फोटो में डूबता हुआ जरूर दिखाई दे रहा है लेकिन उस दौरान किसी की नज़र नहीं पड़ी, नहीं तो इस छात्र की जान बच गयी होती शायद। मृतक छात्र का नाम विश्वास है, जो शहर के नेशनल कॉलेज का छात्र था। बताया जा रहा है कि एक प्रोफेसर के साथ करीब 25 छात्रों का समूह शहर के बाहरी इलाके में पिकनिक पर गया था। इसी दौरान छात्रों का एक तालाब में नहाने का कार्यक्रम बन गया। इसके बाद वे एक मंदिर देखने निकले थे। इसी दौरान उन्होंने नोटिस किया कि विश्वास उनके साथ नहीं है।

बाद में एक छात्र में फोटो खंगाली तो ग्रुप सेल्फी में विश्वास पीछे तालाब में डूबता नजर आया। इसके बाद छात्रों ने स्थानीय पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट की। पुलिस ने गोताखोरों के साथ तालाब में खोजबीन की तो थोड़ी देर बाद विश्वास का शव बरामद हो गया। कॉलेज प्रशासन ने इस घटना की जांच की बात कही है। वहीं छात्र के पिता ने कॉलेज प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उनका यह भी दावा है कि एफआईआर दर्ज करने के बावजूद पुलिस कॉलेज प्रशासन पर कार्रवाई नहीं कर रही।

{ यह भी पढ़ें:- भ्रष्टाचार पर योगी सरकार का सेल्फी वार }

सेल्फी के चक्कर में हादसे नियमित रूप से सुर्खियों का विषय बन चुके हैं। इसी साल जुलाई में नागपुर में भी सेल्फी के चलते हुए एक हादसे में 10 छात्र डूब गए थे। यहां 10 लड़कों का एक ग्रुप पिकनिक मनाने गया था। इसी दौरान ये सभी छात्र वेना बांध घूमने पहुंचे और एक नाव पर सवार हो गए। इसी दौरान कुछ छात्रों के सेल्फी लेने की कोशिश के चलते नाव का संतुलन बिगड़ गया और वह पलट गई।

{ यह भी पढ़ें:- सरयू नदी में नाव पलटने से छह की मौत, सीएम ने किया मुआवजे का एलान }