लॉकडाउन के बीच कोरोना शेल्टर में मिले, दोनों में हुआ प्यार , फिर कर ली शादी!

aaaaa-696x365

मुंबई: कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है। इस महामारी की वजह से जैसे पूरी दुनिया थम सी गई है लोगो को अपने सारे काम बंद करने पड़े, शादियां तक थम गई। लॉकडाउन में सबकुछ रूका, लेकिन इस महामारी का असर प्यार पर नहीं पड़ा है। Maria Cecilia Osorio और Alfonso Ardila लगभग एक महीने पहले मिले। वो भी कोरोना शेल्टर में। जहां लोगों ने लॉकडाउन के दौरान शरण ली। कोरोना शेल्टर में ही दोनों को प्यार हुआ और फिर शादी भी कर ली।

Between The Lockdowns Corona Met In The Shelter The Two Fell In Love And Got Married Again :

बता दे की ‘न्यूयॉर्क पोस्ट‘ की खबर के मुताबिक, मारिया 39 साल की हैं। वो मिशनरी से जुड़ा काम करती हैं। उनके पास पैसे नहीं थे इसलिए वो Manizales (कोलंबिया में) के एक शेल्टर होम में आकर रहने लगी। इसी बीच Alfonso जोकि पेशे से एक मजदूर हैं। लॉकडाउन के कारण उनका भी काम बंद था। वो भी इसी शेल्टर होम में रहने लगे। जहां मारिया के पास भी अपने मकान मालिक को देने के लिए किराया नहीं था, वहीं अल्फोंसो की भी यही हालत थी।अल्फोंसो कहते हैं कि जब वो यहां आया तो उसे कोई ऐसा मिला जो उनकी चिंता करता है, उनका ध्यान रखता है।

वो बताते हैं कि उनके सिर पर एक चोट लगी थी। जिसके कारण वो काफी दवाइयां ले रहे था। लेकिन मारिया से मिलने के बाद उन्होंने दवाइयां लेनी कम कर दीं। वो कहते हैं, ‘ये दुआओं का ही असर है कि मैं ठीक हो रहा हूं।’ बीते हफ्ते दोनों ने शादी की। शेल्टर के बाकी लोगों ने भी इस शादी में हिस्सा लिया। सब मास्क पहनकर शादी में पहुंचे। फिलहाल मारिया और अल्फोंसो को शादी के बाद एक टेंट दिया गया है। दोनों उसमें ही रहते हैं। मारिया कहती हैं, ‘हमें नहीं पता कि आगे क्या होगा लेकिन एक दिन हमें ये शेल्टर छोड़ना होगा।’ दोनों कहते हैं कि जब यह महामारी का दौर खत्म होगा हम हनीमून के लिए जाएंगे।

मुंबई: कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है। इस महामारी की वजह से जैसे पूरी दुनिया थम सी गई है लोगो को अपने सारे काम बंद करने पड़े, शादियां तक थम गई। लॉकडाउन में सबकुछ रूका, लेकिन इस महामारी का असर प्यार पर नहीं पड़ा है। Maria Cecilia Osorio और Alfonso Ardila लगभग एक महीने पहले मिले। वो भी कोरोना शेल्टर में। जहां लोगों ने लॉकडाउन के दौरान शरण ली। कोरोना शेल्टर में ही दोनों को प्यार हुआ और फिर शादी भी कर ली। बता दे की ‘न्यूयॉर्क पोस्ट‘ की खबर के मुताबिक, मारिया 39 साल की हैं। वो मिशनरी से जुड़ा काम करती हैं। उनके पास पैसे नहीं थे इसलिए वो Manizales (कोलंबिया में) के एक शेल्टर होम में आकर रहने लगी। इसी बीच Alfonso जोकि पेशे से एक मजदूर हैं। लॉकडाउन के कारण उनका भी काम बंद था। वो भी इसी शेल्टर होम में रहने लगे। जहां मारिया के पास भी अपने मकान मालिक को देने के लिए किराया नहीं था, वहीं अल्फोंसो की भी यही हालत थी।अल्फोंसो कहते हैं कि जब वो यहां आया तो उसे कोई ऐसा मिला जो उनकी चिंता करता है, उनका ध्यान रखता है। वो बताते हैं कि उनके सिर पर एक चोट लगी थी। जिसके कारण वो काफी दवाइयां ले रहे था। लेकिन मारिया से मिलने के बाद उन्होंने दवाइयां लेनी कम कर दीं। वो कहते हैं, ‘ये दुआओं का ही असर है कि मैं ठीक हो रहा हूं।’ बीते हफ्ते दोनों ने शादी की। शेल्टर के बाकी लोगों ने भी इस शादी में हिस्सा लिया। सब मास्क पहनकर शादी में पहुंचे। फिलहाल मारिया और अल्फोंसो को शादी के बाद एक टेंट दिया गया है। दोनों उसमें ही रहते हैं। मारिया कहती हैं, ‘हमें नहीं पता कि आगे क्या होगा लेकिन एक दिन हमें ये शेल्टर छोड़ना होगा।’ दोनों कहते हैं कि जब यह महामारी का दौर खत्म होगा हम हनीमून के लिए जाएंगे।