पत्रकार के सवाल पर भड़के भगवंत मान, हाथापाई की भी की कोशिश

bhagwat
पत्रकार के सवाल पर भड़के भगवंत मान, हाथापाई की भी की कोशिश

नई दिल्ली। मंगलवार को आप पंंजाब की अपने वर्कर्स के साथ मीटिंग थी। जिसमें आप पार्टी के पंजाब प्रधान भगवंत मान भी मौजूद थे। इसी दौरान जब मीडिया ने अकाली दल के नेता पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार के खिलाफ सिलसिलेवार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। जबकि प्रदर्शन के लिए मशहूर आप शांत क्यों हैं? इस दौरान मान पत्रकारों पर भड़के उठे और सवाल पूछने वाले से सरेआम भिड़ गए।

Bhagwant Mann Raging On Journalists Question Also Tried To Scramble :

एक ही पत्रकार जब उनसे लगातार इसी बात को घुमाफिराकर बार-बार पूछ रहे थे तो वह अपना आपा खो बैठे। उसके हाथ पर हाथ मारकर बोले कि क्या तुम ही सारे सवाल पूछोगे? इतना ही उन्हाेंने मीडिया से हाथापाई करने की भी कोशिश की।

हुआ ये कि एक पत्रकार ने भगवंत मान से कहा कि अकाली दल सरकार के मुख्य विरोधी नजर आ रहे हैं। बार-बार धरने लगाते हैं। इसपर भगवंत मान भड़क गए और कहने लगे कि धरने लगाकर विरोधी दल नहीं बनते। सवाल पूछकर विरोधी बना जाता है। इसके बाद उन्होंने कहा कि सुखबीर बातों को आप सीरियसली कैसे ले सकते हो। वो तो मंदबुद्धी बच्चा है।

भगवंत मान का मीडिया से काफी तर्क हुआ जिसके बाद वह वहां से निकल गए। इसके बाद वहां यह भी कहा गया कि हमने मीडिया  को यहां बुलाया ही नहीं था। हालांकि इस घटना के बाद कुछ लोग यह भी कह रहे थे कि भगवंत मान से शराब पी रखी थी। इसलिए वह सामान्य तरह से बिहेव नहीं कर पाए। अब समस्त मीडिया चाहता है कि भगवंत मान उनसे माफी मांगे।

 

नई दिल्ली। मंगलवार को आप पंंजाब की अपने वर्कर्स के साथ मीटिंग थी। जिसमें आप पार्टी के पंजाब प्रधान भगवंत मान भी मौजूद थे। इसी दौरान जब मीडिया ने अकाली दल के नेता पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार के खिलाफ सिलसिलेवार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। जबकि प्रदर्शन के लिए मशहूर आप शांत क्यों हैं? इस दौरान मान पत्रकारों पर भड़के उठे और सवाल पूछने वाले से सरेआम भिड़ गए। एक ही पत्रकार जब उनसे लगातार इसी बात को घुमाफिराकर बार-बार पूछ रहे थे तो वह अपना आपा खो बैठे। उसके हाथ पर हाथ मारकर बोले कि क्या तुम ही सारे सवाल पूछोगे? इतना ही उन्हाेंने मीडिया से हाथापाई करने की भी कोशिश की। हुआ ये कि एक पत्रकार ने भगवंत मान से कहा कि अकाली दल सरकार के मुख्य विरोधी नजर आ रहे हैं। बार-बार धरने लगाते हैं। इसपर भगवंत मान भड़क गए और कहने लगे कि धरने लगाकर विरोधी दल नहीं बनते। सवाल पूछकर विरोधी बना जाता है। इसके बाद उन्होंने कहा कि सुखबीर बातों को आप सीरियसली कैसे ले सकते हो। वो तो मंदबुद्धी बच्चा है। भगवंत मान का मीडिया से काफी तर्क हुआ जिसके बाद वह वहां से निकल गए। इसके बाद वहां यह भी कहा गया कि हमने मीडिया  को यहां बुलाया ही नहीं था। हालांकि इस घटना के बाद कुछ लोग यह भी कह रहे थे कि भगवंत मान से शराब पी रखी थी। इसलिए वह सामान्य तरह से बिहेव नहीं कर पाए। अब समस्त मीडिया चाहता है कि भगवंत मान उनसे माफी मांगे।