1. हिन्दी समाचार
  2. Bharat Bandh: हड़ताल में शामिल होने वाले सरकारी कर्मचारी नतीजा भुगतने को रहे तैयार, चेतावनी जारी

Bharat Bandh: हड़ताल में शामिल होने वाले सरकारी कर्मचारी नतीजा भुगतने को रहे तैयार, चेतावनी जारी

By आस्था सिंह 
Updated Date

Bharat Bandh Today Govt Warns Employees Of Consequences If They Go On Strike Today

नई दिल्ली। सरकार ने चेतावनी जारी करते हुए सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों से कहा है कि वे अपने कर्मचारियों को 8 जनवरी की प्रस्तावित हड़ताल (Strike) से दूर रहने को कहें। जहां 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने आज ‘भारत बंद’ का आह्वान किया है वहीं कार्मिक मंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कर्मचारियों को यह चेतावनी देते हुए हड़ताल से दूर रहने को कहा गया है।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री के दफ्तर के कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित, सीएम योगी ने खुद को किया आइसोलेट

10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों का दावा है कि 8 जनवरी को राष्ट्रव्यापी हड़ताल में करोड़ों लोग शामिल होंगे। जिसमें सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ हड़ताल का आह्वान किया गया है। ट्रेड यूनियनों इंटक, एटक, एचएमएस, सीटू, एआईयूटीयूसी, टीयूसीसी, एसईडब्ल्यूए, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ, यूटीयूसी सहित विभिन्न संघों और फेडरेशनों ने पिछले साल सितंबर में 8 जनवरी, 2020 को हड़ताल पर जाने की घोषणा की थी।

हड़ताल में शामिल हुए सरकारी कर्मचारी का कटेगा वेतन

सरकार की ओर से जारी की गई चेतावनी में कहा गया है कि यदि कोई भी सरकारी कर्मचारी हड़ताल पर जाता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा। उसका वेतन काटने के अलावा उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की जा सकती है।

Department of Personnel and Training (DoPT) ने सभी केंद्रीय कर्मचारियों को हड़ताल में नहीं शामिल होने का आदेश जारी करते हुए कहा है कि इसमें किसी भी कर्मचारी को आकस्मिक अवकाश नहीं लेने की अनुमति नहीं है। DoPT ने नियमों का हवाला देते हुए कहा है कि बिनी किसी स्वीकृति के किसी भी कर्मचारी के गैर हाजिर होने पर वेतन और भत्ता स्वीकार नही किया जाएगा।

पढ़ें :- ब्रैडपीट को भाया था भारत का ये प्राचीन शहर, पसंद आई थी साउथ से लेकर नार्थ तक की सभ्यता

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...