भारत में फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप्प पर क्यों न लगे रोक : मित्तल

Bharat Me Facebook Tweeter Aur Whatsapp Par Kyo Na Lage Rok Mittal

नई दिल्ली। भारती ग्रुप के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने अमेरिका, आॅस्ट्रेलिया और सिंगापुर द्वारा H1B वीजा को लेकर कड़े किए जा रहे नियमों पर पूछे गए सवाल पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। मित्तल का कहना है कि अगर कुछ देश भारतीय कामगारों के अपने देश में आने से असुरक्षा की भावना से ग्रसित होकर वीजा नियमों को सख्त करने पर उतारू है, तो भारत को भी अपने घरेलू बाजार में बड़ा लाभ कमा कर ले जा रहीं विदेशी कंपनियों को न क्यों नहीं रोक लगानी चाहिए।



उन्होंने कहा कि कोई देश अगर अपनी अर्थव्यवस्था को गति देने वाले कुशल कामगारों के प्रवेश पर रोक लगा दे या फिर दूसरे देश की कंपनियों को अपने देश में कारोबार करने के लिए ऐसी खास सैलरी देने की वाध्यता लागू कर दे जिससे वह प्रतिस्पर्धा के काबिल न रहे तो इसे जायज नहीं ठहराया जा सकता।




उन्होंने कहा कि अमेरिका जैसे देशों की संरक्षणवादी नीतियों का लागू करना बिलकुल भी उचित नहीं है क्योंकि हम फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप जैसी कंपनियों को यह कहकर भारत में नहीं रोक सकते कि भारत में पहले ही इनसे मिलते जुलते एप्स मौजूद हैं।



मित्तल के मुताबिक कोई भी देश लंबे समय तक ऐसी स्थिति में नहीं रह सकता कि वह दूसरे देशों के कामगारों पर रोक लगा दे और उसके अपनी कंपनियां उस देश में बड़ा मुनाफा कमाती रहें।

नई दिल्ली। भारती ग्रुप के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने अमेरिका, आॅस्ट्रेलिया और सिंगापुर द्वारा H1B वीजा को लेकर कड़े किए जा रहे नियमों पर पूछे गए सवाल पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। मित्तल का कहना है कि अगर कुछ देश भारतीय कामगारों के अपने देश में आने से असुरक्षा की भावना से ग्रसित होकर वीजा नियमों को सख्त करने पर उतारू है, तो भारत को भी अपने घरेलू बाजार में बड़ा लाभ कमा कर ले जा रहीं…