HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. अप्रैल में Bhima UPI के लेनदेन में दर्ज की गई 4.94 लाख करोड़ रुपये की गिरावट

अप्रैल में Bhima UPI के लेनदेन में दर्ज की गई 4.94 लाख करोड़ रुपये की गिरावट

डिजिटल ट्रांजैक्शन की ओर ज्यादा से ज्यादा की ओर बढ़ रहा भारत ने भीम यूपीआई अप्रैल के आंकड़ों की जानकारी दी है। एनपीसीआई की शनिवार को दिखाई गई रिपोर्ट के मुताबिक इस साल अप्रैल में भीम यूपीआई गिरकर 4.94 लाख करोड़ रुपये रह गया। इस महीने के दौरान कुल लेनदेन की संख्या 2.64 अरब थी, जो मार्च में 2.73 अरब से 3.3 प्रतिशत कम थी। 

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: डिजिटल ट्रांजैक्शन की ओर ज्यादा से ज्यादा की ओर बढ़ रहा भारत ने भीम यूपीआई अप्रैल के आंकड़ों की जानकारी दी है। एनपीसीआई की शनिवार को दिखाई गई रिपोर्ट के मुताबिक इस साल अप्रैल में भीम यूपीआई गिरकर 4.94 लाख करोड़ रुपये रह गया। इस महीने के दौरान कुल लेनदेन की संख्या 2.64 अरब थी, जो मार्च में 2.73 अरब से 3.3 प्रतिशत कम थी।

पढ़ें :- Microsoft का सर्वर ठप होने से दुनियाभर के यूजर्स परेशान,एलन मस्क ने ली चुटकी, एंटीवायरस को बताया वायरस

यूपीआई ने 273 करोड़ ट्रांजैक्शन दर्ज किए थे जो मार्च में 5,04,886 करोड़ रुपये थे। जहां अप्रैल में कुल ट्रांजैक्शन में गिरावट आई, वहीं यूपीआई के लिए डेली ट्रांजैक्शन वॉल्यूम पहले जैसा ही रहा। ऑनलाइन पेमेंट ट्रांजैक्शन ऐप्स फोनपे, गूगल पे और पेटीएम अधिकतम मार्केट शेयर को कंट्रोल करते हैं।

जैसा कि जारी किए गए आंकड़ों में मार्च में 1,199.51 मिलियन लेनदेन हुए थे और इसके बाद Google पे के 957.01 मिलियन, क्रमशः 44% और 35% बाजार हिस्सेदारी को नियंत्रित किया गया। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया देश के सभी रिटेल पेमेंट्स सिस्टम्स का एक छाता निकाय है।

पढ़ें :- EPFO ने 7 करोड़ कर्मचारियों को दी बड़ी खुशखबरी, पैसा निकालना या क्लेम से जुड़ी करनी हो पूछताछ, अब होगा बहुत आसान
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...