मायावती नहीं, बसपा का ये नेता होगा राज्यसभा चुनाव का उम्मीदवार

मायावती नहीं, बसपा का ये नेता होगा राज्यसभा चुनाव का उम्मीदवार
मायावती नहीं, बसपा का ये नेता होगा राज्यसभा चुनाव का उम्मीदवार

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) ने राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने खुद राज्यसभा सीट के लिए मैदान में नहीं उतरने का फैसला लेते हुए भीमराव आंबेडकर को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है। भीमराव अंबेडकर इटावा के पूर्व विधायक रह चुके हैं। कयास लगाए जा रहे थे कि मायावती खुद राज्यसभा जाएंगी या अपने भाई आनंद कुमार को प्रत्याशी बनाएंगी।

Bhimrao Ambedkar Is Bsp Candidate For Rajya Sabha :

बता दें कि मूल रूप से इटावा के रहने वाले भीमराव आंबेडकर दलित समाज से आते हैं। भीमराव लखना सीट से विधायक भी रह चुके हैं। पार्टी ने बयान में कहा, ‘विरोधी दलों की तरफ से अफवाह फैलाई जा रही थी कि बीएसपी से मायावती के भाई और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद कुमार को उम्मीदवार बनाया जाएगा। हमने भीमराव आंबेडकर को प्रत्याशी बनाते हुए यह स्पष्ट संदेश दिया है कि बीएसपी परिवारवाद के खिलाफ है।

यूपी में राज्यसभा की दस सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए नामांकन पत्र 5 से 12 मार्च तक दाखिल किए जाएंगे। 13 मार्च को इनकी जांच होगी और 15 मार्च तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। 23 मार्च को मतदान होगा और उसी दिन शाम 5 बजे से मतगणना शुरू होगी।

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) ने राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने खुद राज्यसभा सीट के लिए मैदान में नहीं उतरने का फैसला लेते हुए भीमराव आंबेडकर को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है। भीमराव अंबेडकर इटावा के पूर्व विधायक रह चुके हैं। कयास लगाए जा रहे थे कि मायावती खुद राज्यसभा जाएंगी या अपने भाई आनंद कुमार को प्रत्याशी बनाएंगी।बता दें कि मूल रूप से इटावा के रहने वाले भीमराव आंबेडकर दलित समाज से आते हैं। भीमराव लखना सीट से विधायक भी रह चुके हैं। पार्टी ने बयान में कहा, 'विरोधी दलों की तरफ से अफवाह फैलाई जा रही थी कि बीएसपी से मायावती के भाई और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद कुमार को उम्मीदवार बनाया जाएगा। हमने भीमराव आंबेडकर को प्रत्याशी बनाते हुए यह स्पष्ट संदेश दिया है कि बीएसपी परिवारवाद के खिलाफ है।यूपी में राज्यसभा की दस सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए नामांकन पत्र 5 से 12 मार्च तक दाखिल किए जाएंगे। 13 मार्च को इनकी जांच होगी और 15 मार्च तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। 23 मार्च को मतदान होगा और उसी दिन शाम 5 बजे से मतगणना शुरू होगी।